जासं, फाजिल्का। फाजिल्का में दो प्रोजेक्टों का उद्घाटन करने के लिए पहुंच रहे मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के आगमन से पहले किसानों ने धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया है। सीएम चन्नी के यहां पहुंचने से पहले ही विभिन्न किसान यूनियन के सदस्यों ने आयोजन स्थल के बाहर धरना लगा दिया है। किसानों ने कहा कि लंबे समय से ओलावृष्टि से खराब हुई फसलों का मुआवजा नहीं दिया गया है। वह मुआवजा देने की मांग रहे हैं लेकिन कांग्रेस की सरकार किसानों की कोई बात नहीं सुन रही।

इसके अलावा फिरोजपुर माइनर का पानी काफी गंदा आ रहा है। इसको लेकर वह कई बार अधिकारियों से मिल चुके हैं लेकिन परेशानी दूर नहीं हो रही। किसानों की मांग है कि उनकी मुलाकात सीएम चन्नी से करवाई जाए। हालांकि सीएम खबर लिखे जाने तक आयोजन स्थल पर नहीं पहुंचे थे। पुलिस ने उन्हें आयोजन सथल से दूरी पर ही रोक लिया है।

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी मंगलवार को आधुनिक बस स्टैंड व सरकारी अस्पताल के निर्माण की नींव रखेंगे। चन्नी का यह दौरा इसलिए भी महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि यह सुखबीर सिंह बादल के विधानसभा क्षेत्र वाला जिला है। इस दौरान मुख्यमंत्री कुछ बड़ी घोषणाएं भी कर सकते हैं। विधायक दविंद्र सिंह घुबाया भी मौजूद रहेंगे।

यह भी पढ़ें-Punjab Roadways Strike: लुधियाना में कांट्रैक्ट कर्मियाें की हड़ताल से 200 बसाें के थमे पहिये, दिनभर यात्री रहे परेशान

बर्बाद फसलाें का मुआवजा देने की मांग

गाैरतलब है कि पंजाब में अगले साल हाेने वाले विधानसभा चुनाव से पहले किसानाें ने प्रदर्शन तेज कर दिए हैं। पिछले दिनाें सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने बठिंडा दाैरे के दाैरान किसानाें काे बर्बाद फसलाें का मुआवजा देने की घाेषणा की थी जाे आज तक पूरी नहीं हुई। किसानाें का आराेप है कि पंजाब सरकार अपना वादा पूरा करने में नाकाम रही है। मालवा के जिलाें में सबसे ज्यादा फसलें तबाह हुई है।

यह भी पढ़ें-Train Travel Alert: यात्रियों के लिए बड़ी राहत, आन द स्पाट जनरल टिकट बुकिंग फिर शुरू, जानें किन ट्रेनों में मिलेगी सुविधा

Edited By: Pankaj Dwivedi