लुधियाना, जेएनएन। मैं बेकसूर हूं, इसका नतीजा आपके सामने जल्द आ जाएगा। मैंने कोई ताकतवर दवा नहीं ली। यह कहना है अमेरिका की मशहूर बास्केटबॉल लीग एनबीए के ड्राफ्ट में शामिल होने वाले पहले भारतीय बास्केटबॉल खिलाड़ी सतनाम सिंह भमरा का। वह शनिवार को गुरु नानक स्टेडियम में सीनियर नेशनल बास्केटबॉल चैंपियनशिप में अपनी घरेलू टीम पंजाब का हौसला बढ़ाने आए थे।

दैनिक जागरण से विशेष बातचीत में 23 वर्षीय सतनाम सिंह से नाडा के डोप टेस्ट में फेल होने के बारे में जब पूछा गया तो उसने मुस्कराते हुए कहा कि जिस कारण मैं इस एपिसोड में फंसा हूं, उसकी मुझे पूरी तरह से जानकारी नहीं थी। उन्होंने कहा कि मैंने अपील की हुई है। उल्लेखनीय है कि सतनाम के मामले की सुनवाई नाडा की एडीसीपी करेगी, जिसका अगले साल फैसला आएगा। हालांकि, नाडा के पहले ए सैंपल से डोप फेल होने के बाद जब सतनाम से पूछा कि आपने बी सैंपल दिया है, तो वह मंद मुस्कान के साथ सवाल को टाल गए।

गुरु नानक स्टेडियम में खिलाड़ियों की हौंसला अफजाई करते सतनाम सिंह भमरा।

नेशनल एंट्री डोपिंग एजेंसी नाडा द्वारा सतनाम सिंह का इसी वर्ष अगस्त में बेंगलुरु शिविर के दौरान डोप टेस्ट लिया गया था, जिसमें वह फेल हो गए थे। इसके बाद सात फुट 2 इंच कद काठी वाले बरनाला के खिलाड़ी सतनाम को अस्थाई रूप से निलंबित कर दिया गया था।

पिता ने कहा, बेदाग है बेटा

पिता बलवीर सिंह ने कहा कि सतनाम ऐसा कार्य नहीं कर सकता, जिससे देश व पंजाब का नाम शर्मसार हो। मेरा बेटा बेकसूर है। पंजाब चैंपियन बना है, और मेरा बेटा बाहर से तालियां बजाकर उत्साह बढ़ा रहा है। खुशी है और गम भी दिख रहा था कि वह टीम का हिस्सा नहीं है।

खिलाडिय़ों का बढ़ाया हौसला

सीनियर नेशनल बास्केटबाल चैंपियनशिप के फाइनल में पंजाब व तमिलनाडु का मैच हुआ। इसमें विशेष रूप से सतनाम ने खिलाडिय़ों की हौंसला अफजाई की। इस अवसर पर पूरे मैच में वह अपने साथी खिलाडिय़ों को इशारों-इशारों में गेम्स के टिप्स बता रहे थे।

पंजाब के जीतते ही आंसू बन छलक पड़ी खुशियां

एक क्षण वह भी आया जब पंजाब ने मैच जीता। इस जीत की खुशियां आंसू बन सतनाम के आंखों छलछला पड़ीं। कोच हरजिंदर के साथ खड़े होकर रोने लगे। साथ ही पंजाब की टीम में शामिल न होने की टीस उनकी आंखों में दिखाई दी रहे थी। जब उनसे पूछा गया तो सतनाम का कहना था कि ये आंसू खुशी के हैं कि टीम जीत गई। बाहर बैठकर भी लग रहा था टीम का हिस्सा हूं। खुशी है कि टीम ने जीत दर्ज की।

सतनाम के मामले में सेक्रेटरी ने पल्ला झाड़ा

सीनियर नेशनल बास्केटबॉल चैंपियनशिप में भारतीय बास्केटबॉल महासंघ के सेक्रेटरी चंद्र मुखी विशेष रुप से शामिल हुए। जब उनसे सतनाम सिंह भमरा के नाडा डोप टेस्ट फेल होने के कारणों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने इससे पल्ला झाडऩे की कोशिश की और कहा कि बाद में बात करता हूं।

फरवरी में आएगा फैसला

एडीसीपी सतनाम की अपील पर 90 दिन के भीतर फैसला सुनायेगी। वर्णनीय है कि नाडा ने सतनाम पर 19 नवंबर को अस्थाई रूप से निलंबित किया था। जिसका फैसला फरवरी माह में आएगा।

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Vikas Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!