लुधियाना, जेएनएन। पठानकोट से नई दिल्ली जा रही ट्रेन (नंबर 122429) जब लक्कड़ पुल फ्लाईओवर के पास पहुंची तो अचानक ओवर हेड वायर टूट गई। ड्राइवर ने चौकसी दिखाते हुए ट्रेन को रोक दिया। वहीं ओवर हेड वायर टूटने की बात सुनते बोगियों में सवार यात्री कूद-कूद कर भागने लगे। ट्रेन में सवार कुछ जानकार यात्रियों ने नीचे उतर कर यात्रियों भागने से रोका और कहा कि वायर टूटने के बाद ऑटोमेटिक रूप से बिजली सप्लाई बंद हो जाती है जिससे खतरे का कोई डर नहीं है। घटना दोपहर करीब 1.20 बजे हुई और ओवर हेड वायर 5:40 बजे ठीक हो पाया। इस चार घंटे 20 मनिट के बीच इस ट्रैक पर ट्रेनों का आवागमन ठप रहा। हालांकि रेल विभाग ने इस दौरान ट्रेनों को अन्य प्लेटफार्मो से होकर चलाना जारी रखा।

जगराओं पुल के लिए दिया ब्लॉक ट्रेनों के परिचालन के लिए खत्म किया

ओवर हेड वायर टूटने के बाद जैसे ही अधिाकरियों को सूचना मिली तो उन्होंने जगराओं रेल पुल बनाने के लिए दिए ब्लॉक को खत्म करवा ट्रेनों का आवागमन आरंभ करवाया। रेल विभाग की ओर से प्रयास के बावजूद ट्रेनों के आवागमन में देरी हुई जिससे लुधियाना रेलवे स्टेशन पर यात्रियों का जमावड़ा लगा रहा। प्लेटफार्म नंबर एक पर भारी संख्या में यात्री ट्रेनों के इंतजार में जुटे रहे।

वायर टूटने पर बंद हो जाती है सप्लाई: ट्रैफिक इंस्पेक्टर

फिरोजपुर रेल मंडल के ट्रैफिक इंस्पेक्टर आरके शर्मा ने कहा कि ओवर हेड वायर टूटने के बाद ही बिजली बंद हो जाती है। इस कारण खतरे की संभावना नहीं रहती। उन्होंने कहा कि वायर की चे¨कग होती रहती है लेकिन कभी गड़बड़ी हो जाती है। वायर को ठीक कर दिया गया और ट्रेनों का परिचालन रूटीन में होने लगी।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!