जागरण संवाददाता, लुधियाना : फेडरेशन ऑफ इंडस्ट्रीयल एवं कामर्शियल आर्गेनाइजेशन (फीको) ने भोगल ग्रुप के डीएस भोगल को लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड विश्व साइकिल दिवस पर दिया। इस दौरान एवन साइकिल लिमिटेड के सीएमडी ओंकार सिंह पाहवा, नीलम साइकिल के एमडी केके सेठ, फीको प्रधान गुरमीत सिंह कुलार और लघु उद्योग भारती के राजीव जैन शामिल हुए। इस दौरान धनवंत सिंह भोगल को साइकिल इंडस्ट्री के उत्थान के लिए यह अवॉर्ड प्रदान किया गया। चार जून 1930 को जन्मे डीएस भोगल ने लुधियाना के आर्य कॉलेज से शिक्षा ग्रहण की है। एयर फोर्स में सेवाएं देने के बाद उन्होंने अपने भाई और पिता के साथ 1957 में साइकिल इंडस्ट्री में शुरू की। इस दौरान उन्होंने इनोवेशन और साइकिल एवं साइकिल पा‌र्ट्स की क्वालिटी में सुधार को लेकर कई अहम प्रयास किए। उन्होंने नेशनल प्रोडक्टिविटी काउंसिल, इंडियन स्टैंडर्ड इंस्टीट्यूशन को सहयोग देवे के साथ जर्मन एंव जैपनीज कंपनीज के लिए काम किया। इस दौरान उनके परिवारिक सदस्य एसएस भोगल, रोहन भोगल और रनदीप भोगल भी मौजूद थे।

दूसरी तरफ, यूनाइटेड साइकिल एंड पा‌र्ट्स मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन (यूसीपीएमए) के पदाधिकारियों ने केंद्र सरकार से मांग की कि साइकिल उद्योग को गति देने के लिए विशेष आर्थिक पैकेज दिया जाए। इस दौरान यूसीपीएमए के वित्त सचिव व होलसेल साइकिल डीलर्स एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अच्छरू राम गुप्ता, वरिष्ठ उपाध्यक्ष गुरचरण सिंह जैमको, महासचिव मनजिदर सिंह सचदेवा, प्रचार सचिव राजिदर सिंह सरहाली, संयुक्त सचिव वीडी दुर्गा ने गिल रोड स्थित साइकिल मार्केट में साइकिल चलाकर विश्व साइकिल दिवस पर साइक्लिंग का संदेश दिया। साथ ही साइकिल इंडस्ट्री को रफ्तार देने के लिए सरकार से गुहार लगाई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!