जागरण संवाददाता, लुधियाना। डीएमसी अस्पताल के पीआरओ (PRO) का शव वीरवार को गांव भैरोवाल कला के समीप नहर से बरामद हुआ है। वह कई दिनों से घर से लापता थे और जिसकी शिकायत थाना मॉडल टाउन में दर्ज थी। मृतक व्यक्ति का नाम मॉडल टाउन एक्सटेंशन निवासी आयुष (46) है। थाना मॉडल टाउन की पुलिस ने फिलहाल कार्रवाई शुरू कर शव को सिविल अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है। शुक्रवार को शव का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।

थाना माडल टाउन के प्रभारी ने बताया कि आयुष डीएमसी अस्पताल में काफी समय से पीआरओ (पब्लिक रिलेशन ऑफिसर) के तौर पर सेवा निभा रहे थे। उनकी एक बेटी है। वह काफी समय से मानसिक तौर पर परेशान थे। लेकिन परेशानी का कारण फिलहाल स्पष्ट नहीं हो सका है। 18 नवंबर की दोपहर वह घर से कहकर निकले कि वह सैर करने जा रहे हैं। जिसके बाद वह वापस घर नहीं लौटे। काफी तलाशने पर भी जब उनका कुछ पता ना लगा तो परिवार ने थाना मॉडल टाउन की पुलिस को शिकायत दर्ज करवाई। 20 नवंबर को पुलिस ने इस गुमशुदगी के मामले में एक एफआइआर दर्ज की और तलाश शुरू कर दी। वीरवार की शाम गांव भैरोवाल कला के पास नहर से आयुष चाकू का शव बरामद हो गया। जिसके बाद शिनाख्त करवाई गई और शव को सिविल अस्पताल की मोर्चरी में रखकर जांच शुरू कर दी गई है।

जानकारी के अनुसार आयुष आखिरी बार 10 अक्टूबर को हॉस्पिटल आए थे। तब उन्हें डायरिया की शिकायत होने पर भर्ती करवाया था। करीब तीन से चार दिन तक अस्पताल में भर्ती रहे। उसके बाद से अस्पताल में नही आए और उसके बाद से लगातार छुट्टी पर थे। बता दे कि आयुष काफी जिंदादिल और मिलनसार इंसान थे। हमेशा दूसरों की मदद करते थे।

यह भी पढ़ें-ED Raid In Punjab: पंजाब में फास्टवे केबल के मालिक समेत 8 ठिकानों पर ईडी के छापे, सुबह से टीम खंगाल रही दस्तावेज