लुधियाना, [अर्शदीप समर]। दाखा उपचुनाव के मतदान को लेकर सोमवार की सुबह से ही कांग्रेस और शिरोमणि अकाली दल के वर्करों में विवाद शुरू हो गया था। कई जगहों पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर बूथ कैप्चरिंग के आरोप भी लगते रहे, लेकिन शाम करीब छह बजे गांव जांगपुर इलाके में जाली वोट डालने के आरोप को लेकर शिअद वर्करों ने कुछ कांग्रेस वर्करों को घेर लिया। इस दौरान कांग्रेस वर्करों ने मौके पर काफी संख्या में कार्यकर्ता बुला लिए, जिसके बाद कांग्रेसियों व शिअद वर्करों में जमकर पथराव हुआ।

कांग्रेस वर्कर ने अकाली कार्यकर्ताओं पर गोलियां चलानी शुरू कर दी। घटना में एक अकाली वर्कर गुरप्रीत गोपी के पैर में गोली लगी है। इसके बाद कांग्रेस वर्कर मौके से निकल गए। शिअद कार्यकर्ताओं ने घायल गोपी को इलाज के लिए डीएमसी अस्पताल पहुंचाया और शिकायत पुलिस को दी। पथराव के दौरान गोपी के एक साथी शमशेर सिंह समेत कई लोग घायल हो गए। पथराव में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भी काफी चोटें आई हैं। सूचना मिलते ही शिअद उम्मीदवार मनप्रीत सिंह अयाली और पुलिस के सीनियर अधिकारी मौके पर पहुंचे।

उधर, उपचुनाव को लेकर मतदान से सिर्फ एक दिन पहले रविवार की देर रात चुनाव आयोग ने एसएसपी संदीप गोयल की जगह पर डीआइजी रणबीर सिंह खटरा को चार्ज सौंप दिया। चुनाव आयोग ने एसएसपी संदीप गोयल पर पक्षपात के आरोपों को लेकर लगातार मिल रही शिकायतों पर कार्रवाई की।

गांव सराभा में दीवार फांद बूथ कैप्चरिंग की कोशिश

गांव सराभा में कुछ युवक कार में सवार होकर बूथ के बाहर पहुंच गए। इस दौरान बूथ के बाहर और अंदर पैरामिलिट्री फोर्स व पुलिस कर्मी तैनात थे। जैसे ही कुछ युवकों ने दीवार फांद कर बूथ के अंदर जाने की कोशिश की तो पैरामिलिट्री फोर्स और ग्रामीणों ने युवकों को रोक लिया। इसी गांव में वोट डालने को लेकर भी कांग्रेस और अकालियों में मामूली विवाद हुआ, लेकिन आसपास के लोगों ने बीच-बचाव कर मामला खत्म करवा दिया। वहींमुल्लापुर दाखा में भी कांग्रेस वर्करों पर बूथ कैप्चर करने के आरोप को लेकर कांग्रेस और अकाली दल के वर्कर आमने-सामने हो गए। उसी समय मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंची और कार्यकर्ताओं को खदेड़ दिया।

कड़वल का लिप कार्यकर्ताओं के साथ बूथ पर हंगामा

तलवंडी खुर्द इलाके में कांग्रेस के सीनियर नेता कंवलजीत सिंह कड़वल समेत वर्करों की लोक इंसाफ पार्टी के वर्करों के साथ भिड़ंत हो गई। इस दौरान बूथ के अंदर जमकर हंगामा हुआ। लिप कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि कड़वल अपने साथियों के साथ बूथ पर आए थे और बूथ हटाने को लेकर धक्केशाही करने की कोशिश की, लेकिन जब उन्होंने रोकने की कोशिश की, तो कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उन पर हमला कर दिया। वहीं, कड़वल ने सभी आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा कि लिप कार्यकर्ता वोट डालने जाने वाले लोगों के साथ धक्केशाही कर रहे थे, जिसको लेकर उन्होंने रोका था।

जाली वोट डालने को लेकर कई बूथों पर विवाद

सोमवार की शाम करीब साढ़े चार बजे के बाद से जाली वोटें डालने को लेकर कई बूथों पर हंगामा हुआ। इस दौरान अकाली दल व लिप के कार्यकर्ताओं ने कांग्रेसियों पर जाली वोट डालने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कांग्रेसियों ने कई जाली वोटें तैयार की हुई थी और शाम होते ही उन्होंने जाली वोटें डालने के लिए अपने कार्यकर्ता भेजने शुरू कर दिए। इस दौरान कुछ लोगों को शिअद कार्यकर्ताओं ने पकड़ कर पुलिस के भी हवाले किया, जिसको लेकर पुलिस जांच करने में जुटी हुई है।

उपचुनाव के दौरान गांव में फ्लैग मार्च 

दाखा उपचुनाव को लेकर पुलिस ने सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए हुए थे। दाखा के सभी गांव के अलावा दाखा शहर में भी पुलिस ने भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया था। बूथ के अंदर वोटर कार्ड चेक किए बिना किसी को भी दाखिल होने नहीं दिया जा रहा था। वहीं, पुलिस ने उपचुनाव शांति पूर्वक करवाने के लिए गांव-गांव फ्लैग मार्च निकाला। फ्लैग मार्च के दौरान अधिकारी सभी बूथों में जाकर सुरक्षा के प्रबंध भी चेक करते थे।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!