लुधियाना, जेएनएन। मांगों को लेकर डीसी ऑफ‍िस कर्मचारी शुक्रवार को हड़ताल पर रहे। कर्मचारी ऑफ‍िस में काम करने की बजाय दाखा पहुंच गए। वहां पर कर्मचारियों पंजाब सरकार के खिलाफ झंडा मार्च निकाला। कर्मचारियों के झंडा मार्च की अगुवाई जिला प्रधान विकास जुनेजा ने की।

डीसी ऑफ‍िस के कर्मचारियों ने पहले से ही हड़ताल पर जाने की घोषणा कर रखी थी। शुक्रवार सुबह कर्मचारी जब मिनी सचिवालय पहुंचे और रणनीति तैयार की। कर्मचारियों ने मिनी सचिवालय पहुंच कर काम नहीं किया। सभी कर्मचारी सचिवालय में एकत्रित हुए और जिला प्रधान विकास जुनेजा के नेतृत्व में दाखा चले गए। दाखा पहुंचकर कर्मचारियों ने पंजाब सरकार के खिलाफ झंडा मार्च निकाला। झंडा मार्च में काफी संख्या में महिला कर्मचारी भी उपस्थित रहीं। इस दौरान कर्मचारियों ने पंजाब सरकार के खिलाफ नारेबाजी और मांगें न पूरी करने के आरोप लगाए।

डीसी ऑफ‍िस में कर्मचारियों की हड़ताल के कारण खाली पड़ी कुर्सियां।

जिला प्रधान विका जुनेजा ने झंडा मार्च के दौरान कहा कि सरकार कर्मचारियों की मांगों की अनदेखी कर रही है। कई बार मांगें पूरी करने का आश्वासन दिया गया, लेकिन पूरी नहीं हुईं। उन्होंने कहा कि जब तक पंजाब सरकार उनकी मांगों को मान नहीं लेती, तब तक हर मोर्चे पर कर्मचारियों की तरफ से संघर्ष जारी रहेगा।

मिनी सचिवालय में डीसी ऑफ‍िस के कर्मचारियों की हड़ताल के कारण लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ी। दफ्तरों में स्टाफ की कुर्सियां खाली दिखीं। डीसी ऑफ‍िस में अपना काम करवाने के लिए पहुंचे लोगों को निराशा हाथ लगी और खाली हाथ वापस लौटना पड़ा।

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Sat Paul

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!