लुधियाना, जेएनएन। ढंडारी कलां स्थित एसजीडी ग्रामर सीनियर सेकेंडरी स्कूल में बच्चे की तरफ से की गई खुदकुशी के मामले में डिप्टी कमिश्नर ने अपनी रिपोर्ट मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को सौंप दी है। अब आगे वह ही इस पर एक्शन लेंगे।

एसडीएम, जिला शिक्षा अधिकारी (डीईओ) की ओर से तैयार की गई इस रिपोर्ट में स्कूल प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई करने के साथ-साथ एक ऐसा बोर्ड बनाने की भी सिफारिश की गई है, जो इस तरह के केसों का निपटारा कर सकें। इसके अलावा स्कूल के टाइमटेबल, बच्चों और उनके अभिभावकों से व्यवहार को ठीक करने के लिए भी कहा गया है।

दरअसल, पांच दिन पहले पीपल चौक निवासी और ढंडारी कलां के एसजीडी ग्रामर स्कूल के 11वीं कक्षा के छात्र धनंजय ने घर में खुदकुशी कर ली थी। पुलिस ने उसके पिता बृज मोहन के बयान पर स्कूल के डायरेक्टर प्रभु दत्त शर्मा, प्रिंसिपल सरोज शर्मा और टीचर पूनम के खिलाफ मामला दर्ज किया था। अभी तक तीनों आरोपित फरार हैं। मुख्यमंत्री ने डीसी को मामले की जांच कर रिपोर्ट देने के लिए कहा था। एसडीएम अमरिंदर मल्ली और डीईओ सवर्णजीत कौर ने अपनी रिपोर्ट डीसी को सौंप दी है।

सीपी और निगम ने कार्रवाई नहीं की तो जाएंगे हाईकोर्ट: पार्षद

इलाका पार्षद जसपाल सिंह ग्यासपुरा ने छात्र की खुदकुशी के मामले में पुलिस प्रशासन व नगर निगम को चेतावनी दी है कि अगर उन्होंने इस मामले में तुरंत कार्रवाई नहीं की तो वह सोमवार को हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे। मीटिंग में पार्षद ने कहा कि छात्र धनंजय की मौत को इतना समय बीत जाने के बाद पूरा प्रशासन कार्रवाई के नाम पर समय ही निकाल रहा है। पुलिस कमिश्नर व नगर निगम कमिश्नर भी आरोपितों पर कार्रवाई करने से पीछे हट रहे हैं। वह इस घटना के पहले से ही इस स्कूल की बिल्डिंग के बारे में नगर निगम को कई शिकायतें कर चुके हैं, लेकिन उनके खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Sat Paul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!