जगराओं, जेएनएन। पनबस रोडवेज सहित विभिन्न विभागों के ठेका आधारित कर्मचारियों ने काले कपड़े पहन कर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने एसडीएम नरिंदर सिंह धालीवाल को मांगपत्र दिया। ठेका संघर्ष मोर्चा के बैनर तले एकत्र हुए कर्मचारियों को सूबा सचिव जलौर सिंह,  ने कहा कि कैप्टन सरकार ने घर-घर नौकरी देने व कच्चे कर्मियों को पक्का करने का वादा कर सत्ता में आई लेकिन एक ठेका कर्मी पक्का नहीं किया। बल्कि, सरकार सभी विभागों में छंटनी और वेतन कटौती कर रही है।

उन्होंने मांग की है कि इंम्प्लाइज वेलफेयर एक्ट 2016 को लागू करके ठेका कर्मचारियों को पक्का किया जाए। उन्होंने कहा कि 22 अगस्त को पटियाला में प्रदेशस्तरीय बैठक की जाएगी। सरकार के खिलाफ लोगों में गुस्सा दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है। यह बात आम आदमी पार्टी के सीनियर नेता बलौर सिंह ने रायकोट में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कही।

उन्होंने कहा कि नशे को रोकने का वादा करके सत्ता में आई कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार में नशा बंद होने की बजाय पहले की अपेक्षा बढ़ा है। आप नेता ने कहा कि कैप्टन आज तक एक भी वादा पूरा नहीं किया। उन्होंने कहा कि साढ़े तीन साल का समय निकलने के बाद कैप्टन सरकार की तरफ से नौजवानों को स्मार्ट फोन बांटने की शुरुआत तो कर दी है मगर यह स्कीम अब सिर्फ बारहवीं जमात तक के विद्यार्थियों तक सीमित हो कर रह गई है। इस मौके साहिल गोयल, रवीन्द्र सिंह रवि, विपन डाबर व मंशा खान आदि उपस्थित थे।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!