लुधियाना, [राजीव शर्मा]। Corona virus effect: कोरोना वायरस ने जहां आम आदमी की नींद उड़ा रखी है, वहीं कारोबार पर भी इसका बुरा असर हो रहा है। बड़ी संख्या में पंजाबी एनआरआइ विदेशों में बसे हैं और वे इन दिनों शॉपिंग करने पंजाब आते हैं, लेकिन मार्च महीने के दौरान कोरोना के चलते एनआरआइ शॉपिंग में 90 फीसद की गिरावट आई है।

अफरा-तफरी के चलते अधिकतर एनआरआइ लौट रहे हैं और नए नहीं आ रहे हैं। नतीजतन पंजाब से एनआरआइ की रेडीमेड गारमेंट्स, ड्रेस मटीरियल एवं वेडिंग की शॉपिंग लगभग खत्म हो गई है और कारोबारियों को करीब डेढ़ महीने का शॉपिंग सीजन हाथ से फिसलता नजर आ रहा है।

कारोबारियों पर पड़ रही दोहरी मार

कारोबारियों का कहना है कि अब उनको फिर से दिसंबर तक का इंतजार करना पड़ेगा। इससे कारोबारियों को आर्थिक नुकसान हो रहा है साथ ही घरेलू ग्राहकी भी 50 फीसद कम है। दोहरी मार को कारोबारी बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं।

मार्च महीने में बिगड़े हालात

कारोबारियों के अनुसार पंजाब से बड़ी संख्या में एनआरआइ विदेशों में बसे हैं। कनाडा, अमेरिका इत्यादि देशों में इन दिनों स्प्रिंग ब्रेक होती है। साथ ही मई जून एवं जुलाई में विदेशों में शादियों का सीजन रहता है। लाखों की संख्या में एनआरआइ दिसंबर से लेकर पंद्रह अप्रैल तक पंजाब में आते हैं, यहां पर जमकर शॉपिंग करते हैं। इस बार फरवरी तक एनआरआइ बिजनेस बेहतर रहा और पिछले साल के मुकाबले करीब 20 फीसद कारोबार अधिक रहा, लेकिन मार्च में कोरोना की दहशत के कारण केंद्र सरकार के अलावा विदेशी सरकारों ने भी लोगों की ओवरसीज मूवमेंट को सीमित कर दिया। भारत में भी तमाम वीजा रद कर दिए गए।

60 फीसद कारोबार एनआरआइ पर निर्भर: कंवलदीप सिंह

पंजाब क्लॉथ मर्चेट्स एसोसिएशन के सेक्रेटरी कंवलदीप सिंह का कहना है कि उनका 60 फीसद कारोबार एनआरआइ पर और 40 फीसद घरेलू ग्राहकों पर निर्भर है। मार्च में एनआरआइ का सारा बिजनेस खत्म हो गया, जबकि घरेलू ग्राहक भी आधे रह गए, केवल मजबूरी वाले ग्राहक ही आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि रिटेल के अलावा ऑन लाइन बिजनेस पर भी खासा असर हुआ है।

भारत आने वाले थे पर वीजा कैंसिल हो गया: संजय

लुधियाना क्लॉथ मर्चेट्स एसोसिएशन के प्रधान संजय अरोड़ा का कहना है कि इससे कपड़ा कारोबारियों का गणित पूरी तरह से गड़बड़ा गया है। बाजार में एनआरआइ ग्राहक दिख नहीं रहे हैं। साफ है कि कपड़ा कारोबारियों का संकट बढ़ रहा है। कनाडा स्थित वैंकूवर से आई एनआरआइ परम ग्रेवाल का कहना है कि उनके बच्चे भी कनाडा से आने वाले थे, लेकिन भारत सरकार ने सभी वीजा कैंसिल कर दिए।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Satpaul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!