लुधियाना, जेएनएन। पुलिस की सीआइए-2 टीम ने लूट और नौसरबाजी करने वाले गैंग के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया है। आरोपित एटीएम कैबिन में लोगों की मदद करने के बहाने एटीएम कार्ड बदल उनके अकाउंट से नकदी उड़ा लेते थे। इसके अलावा वे लूट की दर्जनों वारदातें कर चुके हैं। आरोपितों के खिलाफ थाना मोती नगर पुलिस में केस दर्ज करके सोमवार को अदालत में पेश किया गया। वहां से दो दिन का रिमांड लेने के बाद उनसे पूछताछ की जा रही है।

एएसआइ परमजीत सिंह ने बताया कि आरोपितों की पहचान जैन कॉलोनी निवासी रोहित शामा, मक्कड़ कॉलोनी निवासी राजेश कुमार, गांव सीलो कलां निवासी विशाखा सिंह, हरगोबिंद पुरा मोहल्ला निवासी शुभम तथा शंकर कुमार के रूप में हुई है। उनके कब्जे से विभिन्न बैंकों के 56 एटीएम कार्ड, तीन मोटरसाइकिल, एक दात, एक दाह, लोहे की दो रॉड तथा एक सब्बल बरामद की गई। रविवार शाम वो पुलिस टीम के साथ मोती नगर के डेंटल कॉलेज चौक के पास गश्त पर थे।

इसी दौरान उन्हें गुप्त सूचना मिली कि हथियारों से लैस आरोपितों का गैंग इस समय पुडा क्वार्टरों के पीछे बैठ कर किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की योजना बना रहा है। फिर वहां रेड करके पांचों को मौके पर ही काबू कर लिया गया। मोती नगर, जमालपुर तथा ग्यासपुरा इलाके में रहते थे सरगर्म पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि वो लोग एटीएम बदल कर नकदी उड़ाने की दर्जनों वारदातें कर चुके हैं। वो लोग मोती नगर, जमालपुर तथा ग्यासपुरा इलाके में सरगर्म रहा करते थे। इसके अलावा हथियारों के बल पर लूटपाट की भी दर्जनों वारदातें कर चुके हैं। एएसआइ परमजीत सिंह ने कहा कि आरोपितों से की जा रही पूछताछ में कई अहम खुलासे होने की संभावना है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!