जागरण संवाददाता, माेगा। Punjab Police Recruitment: कांस्टेबल भर्ती की जारी मेरिट में धांधली के आराेप लगाकर साेमवार सुबह अभ्यर्थियों ने मोगा सब जेल के बाहर हाईवे लिंक रोड किया जाम। भर्ती के लिए जारी मेरिट में बड़े पैमाने पर घपले की आशंका है। मेरिट में ना आरक्षण और ना ही कटऑफ का जिक्र है कि किसको कितने प्रतिशत अंक मिले। सिर्फ अभ्यर्थी का रोल नंबर और नाम दिया गया है। फादर नेम भी सूची में नहीं है।

चहेतों के नाम डलवाने का आराेप

माेगा में पुलिस भर्ती में धांधली के खिलाफ अभ्यथियाें ने किया प्रदर्शन। (जागरण)

आरोप लग रहे हैं कांग्रेस के लोगों ने चुनावों में वोटरों को खुश करने के लिए अपने चहेतों के नाम डलवाए हैं। पंजाब पुलिस की भर्ती शुरू से ही विवादाें में रही है। इसके अलावा रविवार काे काे भी लुधियाना, संगरूर सहित कई जिलाें में धांधली के विराेध में अभ्यर्थियाें ने पंजाब पुलिस और सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया था।  उन्होंने चेतावनी दी थी कि ट्रायल के दौरान जालंधर में प्रदर्शन करेंगे।

यह भी पढ़ें-पटियाला में इंजीनियर बेटी के विवाह पर पिता की अनूठी पहल, थैलेसीमिया पीड़िताें के लिए करेंगे रक्तदान

लुधियाना में भी धांधली के विराेध में दिया था धरना

गाैरतलब है कि पंजाब पुलिस में कांस्टेबल की नौकरी के लिए दिए टेस्ट के नतीजों से गुस्साए परीक्षार्थियों ने रविवार काे लुधियाना के समराला चौक में धरना देकर प्रदर्शन किया था। इस दौरान युवकाें ने पंजाब पुलिस व सरकार के खिलाफ नारेबाजी की थी। धरना प्रदर्शन का पता चलते ही एसीपी ईस्ट दविंर चौधरी मौके पर पहुंचे। उन्होंने परीक्षार्थियों को आश्वासन दिया कि वह उनकी मांग को सरकार तक पहुंचा देंगे। उससे पहले धरना प्रदर्शन कर रहे परीक्षार्थियों ने आरोप लगाया कि इंटरव्यू में 35 फीसद वालों को पास व 75 फीसद वालों को फेल कर दिया गया।

यह भी पढ़ें-पंजाब के डीसी दफ्तरों में आज ठप रहेगा कामकाज; मोहाली में विजिलेंस के खिलाफ कर्मचारी करेंगे रैली

Edited By: Vipin Kumar