जासं, लुधियाना। लुधियाना में किशोरी को डेट पर लेकर गया युवक अपने साथियों समेत धोखे से उसे अगवा कर ले गया। बाद में किशोरी का मोबाइल फोन और कान में पहनी सोने की बालियां उतार कर फरार हो गया। अब थाना हैबोवाल पुलिस ने आरोपित तथा उसके दो साथियों पर केस दर्ज करके उनकी तलाश शुरू की है। एएसआइ हरमेश लाल ने बताया कि उनकी पहचान हरगोबिंद नगर निवासी रणजीत, रिशी तथा आकाश के रूप में हुई। पुलिस ने  सिटी इंक्लेव की गली नंबर 2 निवासी 16 वर्षीय किशोरी की शिकायत पर उनके खिलाफ केस दर्ज किया।

अपने बयान में उसने बताया कि इंस्टाग्राम पर उसकी रणजीत के साथ मुलाकात हुई थी। बाद में वो दोनों दोस्त बन गए। 16 जनवरी के दिन रणजीत ने उसे मिलने के लिए अपने घर के सामने बने एक खंडहरनुमा मकान में बुलाया। जब वो वहां पहुंची तो आरोपित अपने साथियों समेत वहां खड़ा था। वो उसे बहला फुसला कर मोटरसाइकिल पर बैठा जस्सियां रेलवे पुल की ओर ले गया। जहां एक ढाबे में उन लोगों ने चाय पी। आरोपितों ने उसे बातों में उलझा कर उसका मोबाइल फोन तथा कान में पहनी सोने की बालियां उतार कर अपने पास रख लीं। उसके बाद उसे जालंधर बाइपास स्थित ग्रीन लैंड स्कूल के बाहर उतार कर फरार हो गए।

बिना बताए निकला व्यक्ति लापता, अपहरण की आशंका

लुधियाना में घर में किसी को कुछ बताए बगैर निकला व्यक्ति लापता हो गया। हर संभावित जगह और रिश्तेदारों के यहां तलाश करने पर जब उसका कोई सुराग न लगा तो मामले की शिकायत पुलिस को दी गई। अब थाना बस्ती जोधेवाल पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ उसे अगवा करने के आरोप में केस दर्ज करके उसकी तलाश शुरू की है। एएसआइ रूप सिंह ने बताया कि उक्त केस कैलाश नगर निवासी गुरबचन दास की शिकायत पर दर्ज किया गया। अपने बयान में उसने बताया कि उसका 42 वर्षीय बेटा संजीव कुमार नशा करने का आदी है। 26 दिसंबर के दिन वो घर में किसी को कुछ बताए बगैर कहीं चला गया और लौट कर नहीं आया। उसे आशंका है कि किसी ने अपने निजी स्वार्थ के लिए उसे अगवा करके बंधक बना रखा है।

Edited By: Vinay Kumar