जागरण संवाददाता, लुधियाना : स्वच्छता सर्वेक्षण में रैंकिंग में सुधार के लिए नगर निगम ने कमर कस ली। निगम कमिश्नर की तरफ से हिदायतें मिलने के बाद असिस्टेंट कमिश्नर पूनमप्रीत कौर ने हेल्थ ब्रांच के अफसरों के साथ बैठक की और उन्हें शहर भर में विशेष मुहिम चलाने की हिदायतें दी। स्वच्छता सर्वेक्षण से पहले शहर के कूड़ा डंपों को आकर्षक बनाया जाएगा। इसके लिए डंप की बाउंड्री वॉल पर पेंटिंग करके स्लोगन लिखे जाएंगे। यही नहीं कूड़ा बाहर न फेंके, इसके लिए भी सफाई सेवकों को विशेष तौर पर जागरूक किया जाएगा।

असिस्टेंट कमिश्नर पूनम प्रीत कौर ने बताया कि स्वच्छता सर्वेक्षण में लोगों की भागेदारी अहम होगी। उन्होंने कहा कि जो लोग अपने घरों के बाहर या दुकानों के बाहर कूड़ा फेंकते हैं उनके चालान किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इसके लिए टीमों का गठन किया जा रहा है। टीमें इलाकों व बाजारों में जाकर चालान काटेंगी। इसके अलावा शहर को ओडीएफ फ्री बनाने के लिए भी युद्ध स्तर पर काम किया जा रहा है। शहर के कई वार्ड ओडीएफ फ्री हुए घोषित

शहर के कई वार्ड ओडीएफ फ्री घोषित किए जा चुके हैं। संभवत: एक सितंबर को शहर को ओडीएफ फ्री करने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने बताया कि पिछली बार वेस्ट मैनेजमेंट की वजह से कम अंक मिले थे इसलिए इस बार वेस्ट मैनेजमेंट पर विशेष जोर दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि एटूजेड कंपनी को भी हिदायतें दी गई हैं कि लिफ्टिंग सिस्टम को अपग्रेड किया जाए ताकि समय पर कूड़े की लिफ्टिंग हो और कूड़ा सड़क पर न आए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!