जेएनएन, लुधियाना। बुड्ढा दरिया की सफाई के लिए जागरूक करने को सभी लोग अब आगे आने लगे हैं।रविवार को नामधारी सतगुरु ठाकुर उदय सिंह के नेतृत्व में कई लोग बुड्ढा दरिया की सफाई में जुटे। इस अभियान में शहर के कई एनजीओ से जुड़े लोग भी शामिल रहे। सामाजिक भलाई के चलाए जा रहे इस अभियान में पद्मश्री सुरजीत पातर भी शामिल हुए। स्कूल के बच्चों ने नाटकों के जरिये बुड्ढा दरिया के दर्द को बयां किया।

एनजीटी ने भी मांगा था एक्शन प्लान

बुड्ढा दरिया की वजह से सतलुज का पानी प्रदूषित हो रहा है। यह मामला नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) में भी पहुंचा था। एनजीटी ने दरिया की सफाई को लेकर नगर निगम से दरिया की सफाई का एक्शन प्लान मांगा था।नगर निगम कमिश्नर ने दरिया में गिर रहे प्रदूषित पानी की रिपोर्ट तैयार करने के लिए निगम अफसरों की टीमें तैयार की थी। उन्होंने दरिया के किनारे जाकर फिजीकल चेकिंग भी की थी।

टास्क फोर्स का भी किया है गठन

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बुड्ढा दरिया की सफाई के लिए एक टास्क फोर्स का गठन किया है, जिसकी कमान सतगुरु ठाकुर उदय सिंह को सौंपी है। शहर के बीचों-बीच बुड्ढा दरिया 14 किलोमीटर की दूरी तय करता है। टास्क फोर्स ने जनवरी के अंत तक दरिया से सॉलिड वेस्ट निकालने का काम पूरा करने का लक्ष्य रखा था।

कई लोग झेल रहे गंदगी का दंश

गंदगी की वजह से बुड्ढा दरिया गंदे नाले में तब्दील हो चुका है। लुधियाना शहर ही नहीं, बल्कि सतलुज दरिया के प्रवाह क्षेत्र में आने वाले पंजाब व राजस्थान के तमाम जिलों के लोग बुड्ढा दरिया की गंदगी का दंश झेल रहे हैं। सतलुज के प्रवाह क्षेत्र में रहने वाले लोग कैंसर व लीवर की बीमारी से अपनी जान गंवा रहे हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Sat Paul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!