जासं, जगराओं : आर्ट ऑफ लिविंग की महिला इकाई की ओर से 27 विधवा महिलाओं को हर महीने दिए जाने वाली पेंशन बांटने के लिए समारोह आर्ट ऑफ लिविंग हैप्पीनेस सेंटर में करवाया गया। इसमें ज्ञान, ध्यान व सत्संग भी हुआ। कार्यक्रम में जरूरतमंद महिलाओं को मासिक पेंशन भी दी गई।

प्रोग्राम में मुख्य मेहमान के तौर पर चंद्रप्रभा ने अपने हाथों से सभी विधवा महिलाओं को पेंशन दी गई और कहा कि हमें अपनी खुशिया उन सबसे बाटना चाहिए जिनको इसकी जरूरत है। तभी दिव्या समाज का निर्माण हो सकेगा। पृथपाल सिंह राजपाल ने अपने पिता को याद करते हुए सभी परिवारों को ड्राइफ्रूट का प्रसाद बाटा। इस मौके पर रोजी राजपाल ने सभी के साथ समाजसेवा के मार्ग पर चलते हुए लड़कियों के उत्थान के लिए कार्य करने का संकल्प लिया। रितु गोयल ने लोगों को सत्संग के जरिए सबको मंत्रमुग्ध कर दिया। आर्ट ऑफ लिविंग जगराओं इकाई के टीचर रोजी राजपाल, डॉ. दिलप्रीत राजपाल ने बताया कि आर्ट ऑफ लिविंग का उद्देश्य तनाव रहित समाज का सृजन करना है। इसके लिए जगराओं में हर महीने हैप्पीनेस प्रोग्राम, नवचेतना प्रोग्राम, युवा चेतना प्रोग्राम, स्वच्छ भारत, गरीब जरूरतमंद लड़कियों की शादी में शगुन, प्रोजेक्ट पवित्रा, गरीब बच्चों को शिक्षा, रक्तदान शिविर, योगसाधना, साप्ताहिक सत्संग करवाया जाता है। इसमें व्यक्ति हिस्सा लेकर शारीरिक, मानसिक, आर्थिंक व अध्यात्मिक उन्नति को प्राप्त कर सकता है। इस प्रोग्राम में राकेश सिंगला, डॉ. राजीव शर्मा, विवेक शर्मा, प्रिंसिपल अंजनि सिंह, मीनाक्षी शर्मा, ज्योति, अनीता सिंगला, चंद्रप्रभा, वीना, पिंकी, सुषमा, कुसुम, मनीष, पंकज, मुकेश, गुरदीप बेदी सहित अन्य सदस्य मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!