जागरण संवाददाता, लुधियाना : इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ आर्किटेक्ट्स के लुधियाना चैप्टर की ओर से मंगलवार को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर द पॉम कोर्ट होटल में सेमिनार करवाया गया। इसमें पार्षद ममता आशु मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित रहीं। सेमिनार के दौरान सदस्यों ने पर्यावरण संभाल का संकल्प लिया। इसके लिए पर्यावरण फ्रेंडली इमारतों का निर्माण कराने के लिए जनता को प्रेरित किया जाएगा। साथ ही लुधियाना को मिक्स लैंड यूज के झंझट से मुक्त करने की दिशा में काम करने पर सहमति जताई गई। पार्षद ममता आशु ने कहा कि शहर को सुंदर बनाना और पर्यावरण की संभाल करना सभी की जिम्मेदारी है। इस दिशा में हर नागरिक को अपनी क्षमता के अनुसार काम करना होगा। इंस्टीट्यूट में पंजाब चैप्टर के चेयरमैन एवं लुधियाना स्मार्ट सिटी के डायरेक्टर संजय गोयल ने कहा कि पर्यावरण फ्रेंडली इमारत बनाने में अब शीशे की भूमिका अहम हो गई है। मार्केट में ऐसे शीशे उपलब्ध हैं, जिनके उपयोग से सूर्य की किरणें अंदर नहीं आती और रोशनी अस्सी से नब्बे फीसद तक बढ़ जाती है। वहीं ऐसे शीशों के उपयोग से तीस फीसद तक एनर्जी की बचत हो सकती है। दूसरे पब्लिक बिल्डिंग मसलन स्कूल आदि में परदों की जरूरत भी नहीं रहती। बाजार में ऐसे स्मार्ट ग्लास भी उपलब्ध हैं जिनके उपयोग से कमरे गर्मी में ठंडे और सर्दी में गर्म रहते हैं। संजय ने कहा कि लुधियाना की सही ग्रोथ के लिए इसे मिक्स लैंड यूज से मुक्त करना अनिवार्य है। इसके लिए सभी आर्किटेक्चर मिलकर काम करेंगे। लुधियाना चैप्टर के चेयरमैन योगेश सिंगला ने जीवन में प्लास्टिक के उपयोग को न्यूनतम करने को प्रेरित किया। उनका तर्क रहा कि प्लास्टिक पर्यावरण के लिए हानिकारक है। इस अवसर पर राजन तांगड़ी, बलबीर बग्गा, चंद्र किरण, सुहेल कौल, निकिता कौल, अतुल मेहरा, अभिनव, अमन कपूर, गगन सिंह, खुश्बू बांसल समेत कई सदस्य मौजूद रहे।

सेहत मंत्री का दावा जल्द ही ओपीडी को मिलेंगे 306 नए डॉक्टर

जागरण संवाददाता, लुधियाना : विश्व पर्यावरण दिवस पर लुधियाना पहुंचे सेहत मंत्री ब्रह्मा मो¨हदरा ने पत्रकारों के सवालों के जवाब देते हुए दावा किया कि राज्य में जल्द ही 306 डॉक्टर सेहत विभाग को अपनी सेवाएं देनी शुरू कर देंगे। प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। शिअद भाजपा गठबंधन सरकार पर आरोप लगाते हुए सेहत मंत्री ने कहा कि सेहत क्षेत्र में कोई भी काम नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि राज्य में मीजल-रूबेला अभियान सफलता पूर्वक चल रहा है। अब तक 48.55 लाख बच्चों का टीकाकरण हो चुका है, जबकि कुल 73 लाख में से शेष रहते बच्चों का भी टीकाकरण तय समय सीमा में कर दिया जाएगा। तीन कंपनियां पराली खरीदकर बनाएंगी बिजली

फैक्टरियों और उद्योग के गंदे पानी को शोधित करने के लिए लुधियाना में तीन संयुक्त प्रदूषित पानी शोधक प्लाट स्थापित किए जाने की प्रक्रिया का जिक्र करते हुए सेहत मंत्री ने कहा कि इनका कार्य शुरू होते ही दूषित जल से होने वाले प्रदूषण की समस्या को काफी हद तक सुधार लिया जाएगा। पराली जलाने के रूझान के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार ने तीन कंपनियों के साथ समझौता किया है, जो किसानों से पराली खरीद कर इससे बिजली पैदा किया करेंगी। इसके साथ किसान पराली बेच कर अच्छी कमाई भी कर सकेंगे। सेहत मंत्री ब्रह्मा मो¨हदरा ने गुरुनानक देव भवन में मिशन तंदुरुस्त पंजाब योजना का शुभारंभ किया। विश्व पर्यावरण दिवस पर आयोजित इस समारोह में पराली न जलाने वाले 110 किसानों को सम्मानित भी किया गया। नगर निगम के ज्वाइंट कमिश्नर सतवंत सिंह ने निगम द्वारा लोगों को साफ आबो हवा देने व सफाई व्यवस्था के लिए चलाए जा रहे प्रोजेक्ट की विस्तार से जानकारी दी। वहीं डीएमसी अस्पताल के डीन डॉ. राजू सिंह छीना ने सेहत संभाल के टिप्स दिए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!