जागरण संवाददाता, लुधियाना : एक ऐसा मंच जहां हर बच्चे को टैलेंट दिखाने का मौका मिलता है। टैलेंट बेशक किसी रूप में क्यों न हो, डांस की बात करें या एक्टिंग की या बात करें माडलिग की, स्कूल के हर बच्चे को किसी ने किसी रुप में टैलेंट दिखाने का अवसर मिला। ऐसा नजारा शास्त्री नगर के बीसीएम आर्य माडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल में देखने को मिला, जहां शुक्रवार से पांच दिवसीय आर एंड डी ओपेरा, द जॉय आफ रिदम एंड डांस का आगाज हुआ। कार्यक्रम में स्कूल के नर्सरी और यूकेजी के 1300 बच्चों ने हिस्सा लिया है। पांच दिनों तक रोजाना किसी ने किसी कक्षा के बच्चे अपना टैलेंट दिखाएंगे। यह कार्यक्रम स्कूल के विभिन्न जगहों पर 80 स्लाट्स में आयोजित होगा। मुख्य मेहमान के तौर पर आर्य समाज के उपाध्यक्ष राजेश आर्य शामिल हुए। वहीं विद्यालय अध्यक्ष सुरेश मुंजाल, विद्यालय प्रबंधक जगजीव बस्सी भी शामिल हुए। इससे पहले स्कूल प्रिसिपल डा. परमजीत कौर ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का आगाज किया। उन्होंने कहा कि हर साल ही स्कूल बच्चों के छिपे टैलेंट का उजागर करने की ओर अग्रसर रहता है। इसलिए हर बच्चे की भागीदारी भी आवश्यक होती है। कार्यक्रम में वैसे तो हर बच्चे की परफार्मेंस ने मन मोहा लेकिन आकर्षण का केंद्र पेड़ हैं तो हम हैं परफार्मेंस रही, जिसमें बच्चों ने पेड़ों की कटाई न कर बल्कि हर किसी को अपने जीवन में पेड़-पौधे लगाने के लिए प्रेरित किया। वहीं नन्हे मुन्नों ने घूमर डांस के जरिए राजस्थान की जीवंत घटा बिखेरी। मुख्याध्यापिका अनुजा कौशल ने कहा कि कोविड-19 ने बच्चों को स्कूल की मस्ती से दूर रखा लेकिन सांस्कृतिक उत्सव के माध्यम से बच्चों को बैक टू स्कूल की भावना का भी मौका मिला है।

Edited By: Jagran