जासं, लुधियाना

सिख रांयोटस विक्टमस आर्गेनाइजेशन ने 1984 के सिख विरोधी दंगों में मारे गए निर्दोष सिखों की याद में शुक्रवार को कैंडल मार्च निकाला। कैंडल मार्च पुरानी सब्जी मंडी स्थित गुरुद्वारा सिंह सभा से आरंभ होकर प्रताप बाजार, गिरजाघर चौक, किताब बाजार, केसरगंज मंडी चौक, रेखी चौक के रास्ते जीटी रोड से होते हुए घंटा घर चौक में समाप्त हुआ। घंटा घर चौक में आर्गेनाइजेशन के नेताओं ने मोमबत्ती जलाकर एवं 2 मिनट का मौन रख कर शहीदों को श्रद्घांजलि दी। इस समय सिख रायोटस विक्टम आर्गेनाइजेशन के प्रधान कुलविंदर सिंह नीटू ने 28 साल पहले दिल्ली समेत देश के अन्य राज्यों में हुए सिख विरोधी हुए दंगों की सख्त शब्दों में निन्दा की। उन्होंने देश के राष्ट्रपति एवं सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश से आग्रह किया कि वे सिख विरोधी दंगों के आरोपियों को उनके जुर्म के अनुसार सजा दिलवाकर सिख कौम के जख्मों पर मरहम लगाएं। इस समय प्रधान कुलविंदर संह नीटू, बलविंदर सिंह खालसा, हरचरन सिंह चन्नी, रणजीत सिंह बतरा, गुरदेव सिंह, अमरीक सिंह, गुरदीप सिंह काहलों, जसवीर सिंह, कल्याण सिंह, हरमिन्द्रपाल सिंह बब्बू, डीपी सिंह प्रीत, गुरमीत सिंह ताजपुर, बलदेव सिंह, गुरमीत सिंह, गुरदीप सिंह व जसपाल सिंह भी मौजूद थे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर