जागरण संवाददाता, लुधियाना। 125 वर्ग गज तक के घरों से पानी सीवरेज के बिल वसूलने के मामले में आखिर कार निगम झुक गया। इस मुद्दे पर चल रहा संशय मेयर बलकार सिंह संधू ने आखिरकार निगम हाउस की बैठक में खत्म कर दिया। मेयर ने हाउस की कार्रवाई शुरू होते ही 125 वर्ग गज तक के घरों से पानी सीवरेज के बिल न वसूलने की घोषणा कर दी। मेयर ने साफ कर दिया कि इस संबंध में सरकार से भी मंजूरी ले ली है और हाउस को आश्वस्त कर दिया कि अब 125 वर्ग गज तक वालों को कोई बिल नहीं भेजे जाएंगे।

शहर के करीब 1.25 लाख घरों को मिलेगी राहत

हाउस में भाजपा की नेता सुनीता रानी इस मुद्दे पर बात करने के लिए उठती उससे पहले ही मेयर ने कह दिया कि कुछ अफसरों और कर्मचारियों ने उनके घर में बुधवार सुबह पानी सीवरेज का बिल भेजा है। जिसके पीछे उन्हें कोई साजिश लगती है। इस मामले की जांच की जा रही है और जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। मेयर ने यह कहते ही इस मुद्दे पर हंगामा करने की सोचकर आए विपक्षी पार्षदों को चुप करा दिया। निगम के इस फैसले से शहर के करीब 1.25 लाख घरों को राहत मिलेगी।

दैनिक जागरण ने पहले ही जताया था कि इस मुद्दे पर हाउस में हंगामा हो सकता है लेकिन मेयर ने इसे पहले ही संभाल लिया। मेयर ने कहा कि नहरी पानी का प्रोजेक्ट भी चलता रहे इसके लिए सरकार नया रास्ता तलाश रही है संभवत: इस प्रोजेक्ट को सीवरेज बोर्ड के जरिये करवाएगी। मेयर संधू ने हाउस के मुख्य एजेंडे में 30 प्रस्ताव शामिल किए थे जिसमें पहले दो प्रस्ताव पिछली दो हाउस की बैठकों व सात एफएंडसीसी की बैठकों में पास किए गए एजेंडे के प्रस्तावों काे पास करने संबंधी थे।

हाउस में 11 प्रस्तावों वाला सप्लीमेंटरी एजेंडा भी पेश किया

इसके बाद हाउस में 11 प्रस्तावों वाला सप्लीमेंटरी एजेंडा भी पेश किया। जबकि आखिर में पांच प्रस्ताव टेबल एजेंडे के तौर पर रखे। इस तरह कुल 46 प्रस्ताव पेश किए गए। जिसमें 35 प्रस्ताव पास किए गए। तीन प्रस्ताव पेंडिंग, तीन प्रस्ताव कमेटी के पास भेजे गए जबकि पांच प्रस्ताव रद किए गए। हाउस की बैठक में कूड़ा लिफ्टिंग के लिए बढ़ाए गए रेट का प्रस्ताव टेबल एजेंडे के तौर पर पेश किया गया, जिसे सर्वसम्मति से पास कर दिया गया। मेयर ने कहा कि जल्दी ही इसके लिए टेंडर भी लगा दिए जाएंगे।

शहर को पालीथिन मुक्त बनाएगा

निगम नगर निगम ने एजेंडे में शहर को पालीथिन मुक्त बनाने का प्रस्ताव भी शामिल किया है। इस प्रस्ताव के तहत निगम अब शहर में सिंगल यूज पालीथिन का इस्तेमाल करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगा। मेयर बलकार सिंह संधू ने बताया कि 15 दिन पार्षद व अफसर लोगों को जागरूक करेंगे और उसके बाद कार्रवाई की जाएगी। मेयर ने कहा कि इस पर कार्रवाई के लिए टीम बनाई जाएगी जिसका काम सिर्फ पालीथिन पर कार्रवाई करने का रहेगा। उन्होंने पार्षदों से अपील की है कि इस मुद्दे पर कोई बीच-बचाव के लिए न आएं।

 

Edited By: Vipin Kumar