जागरण संवाददाता, लुधियाना। Ludhiana MC F&CC Meeting : नगर निगम की फाइनांस एंड कांट्रैक्ट कमेटी की बैठक मेयर बलकार सिंह संधू की अध्यक्षता में सोमवार को मेयर कैंप आफिस में होगी। बैठक के एजेंडे में 388 प्रस्तावों को शामिल किया गया है। ज्यादातर प्रस्ताव शहर के विकास कार्यों के वर्कआर्डर जारी करने से संबंधित हैं। वहीं इस बार नगर निगम जोन डी के चार वार्डों के 14 अवैध स्लम एरिया को वैध करने की तैयारी भी कर रहा है।

यह प्रस्ताव भी एफएंडसीसी के एजेंडे में शामिल किया गया है। इसके अलावा सेंटल जेल से नेशनल हाईवे तक बुड्ढा दरिया के किनारे आरसीसी ब्लाक बनाने के साथ सड़क निर्माण का प्रस्ताव भी एजेंडे में शामिल किया गया है। प्रस्ताव में ही स्पष्ट कर दिया गया है कि इस सड़क के निर्माण को अगर मंजूरी मिलती है तो इसे कायाकल्प प्रोजेक्ट पूरा होने के बाद शुरू किया जाएगा। जोन डी के वार्ड नंबर 78, 76, 80 व 81 के पार्षदों ने वार्डों के कुल 16 अवैध स्लम एरिया की सूची मेयर को दी और इन अवैध स्लमों को वैध करने की सिफारिश की।

मेयर ने पार्षदों की तरफ से भेजी गई सूची की फिजिकल वेरिफिकेशन करवाई जिसमें से हैबोवाल डेयरी कांप्लेक्स ब्लाॅक बी में वर्तमान में कोई स्लम एरिया नहीं है और वहीं माया नगर के स्लम एरिया में रहने वाले लोग सुप्रीम कोर्ट से केस हार चुके हैं। इसलिए इन दोनों क्षेत्रों को छोड़कर बाकी के 14 अवैध स्लम एरिया को वैध करने का प्रस्ताव भी एफएंडसीसी के एजेंडे में शामिल किया गया है।

विधायक संजय तलवाड़ ने बुड्ढा दरिया के किनारे बनने वाली सड़क के प्रस्ताव को एजेंडे में शामिल करने की सिफारिश की। तलवाड़ ने कहा कि सरकार ने इसके लिए करीब 50 करोड़ रुपये देने का ऐलान किया था, लेकिन यह राशि जारी नहीं हो सकी। उन्होंने कहा कि इस पर आधी राशि नगर निगम से खर्च करे और आधी राशि खर्च करने के लिए ग्लाडा को अनुमति दे। अगर यहां पर सड़क व आरसीसी ब्लाक बनता है तो दरिया में प्रदूषण कम हो जाएगा और दरिया के किनारे कब्जों की समस्या भी दूर हो जाएगी।

इसके अलावा एजेंडे में अलग अलग जोनों में नेशनल क्लीन एयर प्रोग्राम के तहत होने वाले विकास कार्यों को भी शामिल किया गया है। नेशनल क्लीन एयर के तहत एलिवेटिड रोड पर बिछाई जाएगी मास्टिक एस्फाल्ट लेयर जगराओं पुल से चांद सिनेमा तक बनी एलिवेटेड रोड की ऊपर सतह खराब होने लगी है। एलिवेटेड रोड पर मास्टिक एस्फाल्ट लेयर चढ़ाने की आवश्यकता है।

पार्किग व विज्ञापन ठेकेदारों की फीस में कटौती का प्रस्ताव

निगम ने शहर की कुछ पार्किंग और आउटडोर विज्ञापन के लिए निजी कंपनियों को कांट्रैक्ट दिया है। पार्किंग व विज्ञापन ठेकेदारों ने कोविड के कारण हुए लाकडाउन का हवाला देकर फीस व अन्य खर्चों में कटौती करने के लिए निगम को पत्र लिखा है। इसके बाद मेयर बलकार सिंह संधू ने जोनल कमिश्नर स्वाति टिवाणा की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया। कमेटी ने अपनी सिफारिशों में कहा है कि एक अप्रैल 2021 से पार्किंग ठेकेदार ने अनलाक टाइम के दौरान जितने घंटे पार्किंग चलाई है उसके हिसाब से उनसे फीस वसूली जाए।

इसके अलावा ठेकेदार से उसके हिसाब से 50 फीसद लाइसेंस फीस वसूली जाए। कमेटी ने सिफारिश की है कि मल्टी स्टोरी पार्किंग में नाइट फीस भी लगाई जाए। इसी तरह विज्ञापन ठेकेदार से वसूले जाने वाली फीस में भी कटौती करने की सिफारिश की गई है। कमेटी की सिफारिश पर इस प्रस्ताव को एफएंडसीसी के एजेंडे में शामिल किया गया है।