जगराओं (लुधियाना) जेएनएन। Ludhiana Double Murder Case : 15 मई को जगराओं की नई अनाज मंडी में एएसआइ भगवान सिंह और एएसआइ दलविंदरजीत सिंह का कत्ल करने के आरोप में गिरफ्तार गैंगस्टर दर्शन सिंह सहोली और बलजिंदर सिंह उर्फ बब्बी से अब थाना सदर रायकोट में भुक्की चूरा पोस्त के संबंध में दर्ज एक मुकदमे संबंधी पूछताछ की जाएगी। इसके लिए दर्शन सिंह और बलजिंदर सिंह को थाना सदर रायकोट की पुलिस अदालत से 15 जून तक रिमांड पर ले गई है। गौरतलब है कि गैंगस्टर पुलिस द्वारा ग्वालियर के डाबरा रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किए गए थे। इनके साथ इनको अपना देने वाला हरचरण सिंह निवासी डाबरा को भी गिरफ्तार किया गया था।

इन तीनों को अदालत में पेश करते 10 दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया गया था। इस दौरान 5 दिन तक इन लोगों से मोहाली में गैंगस्टर जयपुाल भुल्लर और जसप्रीत सिंह उर्फ जस्सी के संबंध में पूछताछ की गई थी । उसके बाद इन तीनों को मोहाली से जगराओं भेज दिया गया था । पुलिस कस्टडी दौरान की गई पूछताछ से लडी जोड़ते हुए पुलिस गैंगस्टर जयपाल भुल्लर और जसप्रीत सिंह उर्फ जस्सी का कोलकाता में एनकाउंटर करने में सफल हुई। इसके बाद पुलिस रिमांड में चल रहे इन गैंगस्टरों का थानेदारों के कत्ल के संबंध में पुलिस ने अपनी तरफ से चैप्टर बंद कर दिया है।

दर्शन सिंह सहोली, बलजिंदर सिंह उर्फ बब्बी और हरचरण सिंह डाबरा का शुक्रवार को पुलिस रिमांड समाप्त होने पर इन्हें जगराओं अदालत में पेश किया गया तो अदालत द्वारा इन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेजने के निर्देश दिए। अदालत ने दर्शन सिंह और बलजिंदर सिंह को 15 जून तक थाना सदर रायकोट की पुलिस के पास पूछताछ के लिए रिमांड पर भेज दिया और हरचरण सिंह को न्यायिक हिरासत में जेल भेजने के आदेश दिए।

दर्शन की बुआ के लडके से बरामद हुई थी भुक्की

थाना सदर रायकोट के प्रभारी सब इंस्पेक्टर अजैब सिंह ने बताया कि 30 मई 2021 को थाना सदर रायकोट की पुलिस पार्टी द्वारा गाड़ी में भुक्की ले जा रहे दो लोगों को गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार किए गए मनजीत सिंह फौजी और पाला सिंह से 70 किलोग्राम भुक्की चूरा पोस्त बरामद किया गया था। जिसके संबध में मनजीत सिंह फौजी और पाला सिंह निवासी गांव बुर्ज नकलिया के खिलाफ थाना सदर रायकोट में एनडीपीएस एक्ट के अधीन मुकदमा नंबर 58 दर्ज किया गया था। पूछताछ दौरान मनजीत सिंह उर्फ फौजी ने बताया था कि वह भुक्की दर्शन सिंह जोकि उसके मामा का लडका है और बलजिंदर सिंह उर्फ बब्बी के लिए नशा तस्करी का काम करते हैं। यह नशे की खेप भी वह उन्हीं के लिए रांची झारखंड से उसी कैंटर में लेकर आए थे जो इन्होने दो थानेदारों का कत्ल करने के समय उपयोग किया था।

दर्शन सिंह व बलजिंदर सिंह को मामले में किया था नामजद

पूछताछ के बाद थाना सदर रायकोट की पुलिस ने दर्शन सिंह और बलजिंदर सिंह को इस मामले में नामजद किया था। जिसमें पूछ ताछ के लिए 15 जून तक का पुलिस रिमांड हासिल किया है। थाना प्रभारी अजैब सिंह अनुसार इस रिमांड दौरान इन लोगों से पूछताछ की जाएगी कि यह लोग कब से इस धंदे में लदे हुए हैं और किन लोगों से भुक्की लेकर आते थे और क्षेत्र में कहां और कौन लोगों को सप्वाई करते थे। नशा तस्करी संबंधी भी इनका पूरा नैटनर्क तोडा जाएगा।