लुधियाना, जेएनएन। लुधियाना शहर की ऊंची इमारतों के सामने फायर ब्रिगेड अकसर बौनी पड़ जाती है। फायर ब्रिगेड सिस्टम अपग्रेड न होने के कारण फायर कर्मी अपनी जान तक गंवा चुके हैं। स्मार्ट सिटी मिशन के तहत अब शहर के फायर ब्रिगेड को अपग्रेड करने पर फोकस किया जा रहा है।

सोमवार को जोन डी में स्मार्ट सिटी लिमिटेड की सिटी लेवल टेक्निकल सब कमेटी की बैठक में विशेषज्ञों ने निगम कमिश्नर को कहा कि लुधियाना में दिल्ली मुंबई की तर्ज पर ऊंची इमारतें बन गई हैं और यहां का फायर ब्रिगेड सिस्टम अभी बेहद पुराना है।

इस सिस्टम को अपग्रेड करना होगा। बैठक के दौरान दिल्ली, मुंबई, इंदौर व अन्य बड़े शहरों के फायर ब्रिगेड सिस्टम की प्रेजेंटेशन दिखाई गई। इसके बाद कमेटी ने फैसला किया कि शहर में फायर ब्रिगेड को अपग्रेड करने के लिए प्रोजेक्ट तैयार किया जाएगा।

संयम अग्रवाल के ट्रांसफर के बाद निगम कमिश्नर प्रदीप सभ्रवाल को सीईओ का चार्ज दिया गया है। सीईओ बनने के बाद कमिश्नर की यह पहली बैठक थी। इस बैठक में सिधवां नहर के किनारे लगने वाली लाइटों पर भी विचार किया गया। इस प्रोजेक्ट को भी हरी झंडी दे दी गई। इसके अलावा निगम कमिश्नर ने स्मार्ट सिटी के तहत शहर में जो प्रोजेक्ट चल रहे हैं, उन्हें जल्दी पूरा किए जाने पर जोर दिया गया।

बैठक में प्रोजेक्टों पर काम करने वाले कांट्रैक्टर भी शामिल थे। कमिश्नर ने उन्हें कहा कि शहर में अलग-अलग जगहों पर विकास कार्य चल रहे हैं और उनकी चाल धीमी है। इसलिए उसे जल्द पूरा किया जाए। इसके बाद स्मार्ट सिटी के तहत शहर में अन्य कार्य भी किए जाने हैं।

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!