जेएनएन, लुधियाना।  दातर से हमला करके व्यक्ति को लूट रहे तीन में से एक बदमाश को लोगों ने मौके पर ही पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। मगर पुलिस द्वारा आरोपित के खिलाफ कोई कार्रवाई न किए जाने से भड़के लोगों ने थाना डाबा का घेराव कर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। लोगों के दवाब में आई पुलिस को अंतत: आरोपित के खिलाफ केस दर्ज करना पड़ा। पार्षद पति पंकज शर्मा, समेत सुरिंदर शर्मा, अश्विनी शर्मा, आरके भारद्वाज, बलविंदर सिंह, प्यारा सिंह, आशा रानी, दविंदर कौर, अनुज तिवारी, वरिंदर कश्यप समेत मोहल्ले के लोगों ने आरोप लगाया कि हिम्मत बहादुर सिंह नाम का व्यक्ति सोमवार रात 11 बजे अपने भाई की दुकान से घर लौट रहा था। उसी दौरान तीन बदमाशों ने उस पर हमला कर दिया। आरोपियों ने तेजधार हथियार से बाजू पर वार कर उसके गंभीर रूप से जख्मी कर दिया।

हिम्मत बहादुर के शोर मचाने पर एकत्र हुए लोगों ने भाग रहे तीन बदमाशों में से एक को धर दबोचा और थाना डाबा पुलिस के हवाले कर दिया। उसके कब्जे से एक दातर भी बरामद की गई। हिम्मत बहादुर को गंभीर हालत में अस्पताल भर्ती कराया गया। सुबह तक जब पुलिस ने आरोपित के खिलाफ कार्रवाई न की तो गुस्साए लोगों ने थाने के बाहर धरना देकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। मौके पर पहुंचे एसएचओ बच्चन सिंह ने कार्रवाई का आश्वासन देकर उन्हें शांत किया। बात करते हुए इंस्पेक्टर बच्चन सिंह ने बताया कि आरोपित सुंदर नगर निवासी सुभाष कुमार है। तीनों के खिलाफ केस दर्ज करके उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। फरार हुए उसके दोनों साथियों को पुलिस तलाश रही है।