लुधियाना, जेएनएन। गांव रामगढ़ स्थित एक कॉलोनी निवासी परिवार ने तीन अज्ञात लोगों पर उनकी 18 वर्षीय बेटी के साथ घर में घुस कर दुष्कर्म का आरोप लगाया। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज करके युवती का मेडिकल कराया। मगर डाक्टरों की जांच में पता चला कि उसके साथ ऐसा कुछ हुआ ही नहीं। अब थाना जमालपुर पुलिस मामले को समेटने की प्रक्रिया में जुटी हुई है।

इंस्पेक्टर सुरिंदर कुमार ने बताया कि उक्त केस युवती के पिता की शिकायत पर दर्ज किया गया। उसने बताया कि 18 मार्च की सुबह 7.30 बजे वो अपनी पत्नी अौर बेटे को काम पर छोड़ने के लिए चला गया। उस समय उसकी बेटी घर में अकेली थी। सुबह 11 बजे जब वो वापस घर लौटा तो बेटी ने बताया कि वो सो रही थी। उसी दौरान घर का दरवाजा खोल कर तीन अज्ञात युवक अंदर घुस आए। आरोपतों ने उसके साथ दुष्कर्म किया और फिर जान से मारने की धमकियां देते फरार हो गए। शिकायत के आधार पर पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज करके छानबीन शुरू की।

सोमवार को सिविल अस्पताल में युवती का मेडिकल कराया गया। जिसकी रिपोर्ट में डाक्टरों ने स्पष्ट कर दिया कि युवती के साथ ऐसा कुछ भी नहीं हुअा है। इसके बाद सब इंस्पेक्टर मंजू देवी ने युवती के साथ फिर से पूछताछ की। जिसमें सामने आया कि युवती काफी समय से मानसिक तौर पर परेशान चल रही है। उसने अपनी कलपना के आधार पर एक कहानी गढ़ कर पिता और पुलिस को सुनाई, हालांकि मामले की जांच अभी जारी है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Pankaj Dwivedi