फोटो - 34

-फंदा लगाते देख भाई ने टांगों से ऊपर उठाया और मचाया शोर

-गंभीर हालत में सीएमसी अस्पताल में करवाया भर्ती

जासं, लुधियाना : बस्ती जोधेवाल स्थित शिमला कॉलोनी में बाइक खराब होने पर पिता की डांट से आहत होकर 17 वर्षीय बेटे ने फंदा लगाकर आत्महत्या करने की कोशिश की। जैसे ही उसने फंदा लगाया उसका भाई पहुंच गया और उसने पैर पकड़ उसे ऊपर उठाकर शोर मचाकर परिवार के सदस्यों को इकट्ठा कर लिया। परिवार ने गंभीर हालत में उसे निजी अस्पताल में पहुंचाया, जहां उसकी हालत ठीक बताई जा रही है।

धीरज के पिता मनोहर लाल ने बताया कि उसके चार बेटे हैं। धीरज सबसे छोटा है। रविवार को धीरज घर से बाइक ले गया था। जब लौटा तो बाइक खराब थी। जब उसने घर आकर बताया तो उन्होंने उसे डांट दिया और बाइक दोबारा न देने की बात कही। इसके बाद धीरज चुपचुप रहने लगा। सोमवार को धीरज अपने कमरे में गया और बाहर नहीं निकला। जब उसका बड़ा भाई हर्ष उसे बुलाने गया तो देखा कि धीरज फंदा लगाकर झूल रहा था, उसने तुरंत पैर से पकड़ लिया और ऊपर उठा दिया। साथ ही चिल्लाने लगा। इसके बाद परिवार के सदस्य इकट्ठा हो गए। बेसुध हालत में धीरज को उठाया और सीएमसी अस्पताल ले गए। जहां देर शाम तक उसे होश नहीं आया।

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!