जासं, जगराओं : पंजाब रोडवेज कर्मचारियों ने रोडवेज को निगम में तब्दील करने की जा रही तैयारियों के खिलाफ 21 फरवरी को चक्का जाम करने की घोषणा की। सोमवार को जगराओं में रोडवेज कर्मचारियों ने सांझी एक्शन कमेटी के निमंत्रण पर की गेट रैली के मौके पर घोषित किया। कर्मचारियों की जत्थेबंदी के सूबा डिप्टी सचिव अवतार सिंह गगड़ा, डिपो प्रधान बलजीत सिंह, सचिव परमजीत सिंह, पृथीपाल सिंह, जगदीश सिंह काउंके, एटक के धर्मेद्र सिंह बसियां एटक, केवल सिंह, इंटक के इंद्रजीत सिंह, हरप्रीत सिंह, कर्मचारी दल के निर्मल सिंह, हरबिंदर सिंह कलेरीकल स्टाफ ,चमकौर सिंह दोधर पेंशनर्स नेताओं ने कहा कि प्रदेश सरकार रोडवेज का भोग डालने की तैयारी कर रही है और चुपचाप रोडवेज को निगम में तब्दील करने की की जा रही तैयारियों को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने विभाग में ठेके पर भर्ती व आउट सोरसिंग भर्ती बंद करने, रेगूलर भर्ती शुरू करने, कर्जा मुक्त पनबस स्टाफ सहित रोडवेज के शामिल करने, बराबर काम बराबर वेतन 20-12-16 सुप्रीम कोट का फैसला लागू करने, 304 ए अधीन सजा जाफता ड्राइवरों को ड्यूटी पर बहाल करने , डीएसटी दफ्तर व डिपों के ‌र्क्लकों का काम व वेतन बराबर करने, अवैध आप्रेशन बंद करने और रोड सेफ्टी बिल रद करने और रोडवेज की जायदाद पनबस के नाम की वापस रोडवेज के नाम करने की मांग। उन्होंने थर्मल प्लांट बंद करने व स्कूलों की पोस्टें खत्म करने की निंदा की ।

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!