जासं, लुधियाना: ग्यासपुरा स्थित न्यू राम नगर इलाके में छत पर खड़ा नेत्रहीन किशोर पैर फिसलने से नीचे आ गिरा। पिता राम कुमार ने लोगों की मदद से बेटे कुबेर (12) को सिविल अस्पताल पहुंचाया। मगर हालत देखते हुए डॉक्टरों ने उसे निजी अस्पताल रेफर कर दिया।

पिता राम कुमार ने बताया कि वह मजदूरी करता है। उनका बेटा नेत्रहीन है। वह किचलू नगर स्थित नेत्रहीन बच्चों के लिए बने स्कूल में छठी कक्षा का छात्र है और स्कूल के हॉस्टल में ही रहता है। लोहड़ी की छुंिट्टयां पर वह घर आया था। सोमवार सुबह वह घर की पहली मंजिल पर खड़ा था, इस छत पर रेलिंग नहीं है। जहां से अचानक उसका पैर स्लिप हुआ और वह सीधा जमीन पर आ गिरा। उसके सिर व हाथ-पांव में काफी चोटें आई हैं। उन्होंने तुरंत उसे सिविल अस्पताल पहुंचाया लेकिन खून ज्यादा बहने और गंभीर चोटें आने के चलते उसे निजी अस्पताल में ले जाया गया, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!