संवाद सहयोगी, फगवाड़ा : विधायक बलविंदर सिंह धालीवाल (रिटायर्ड आइएएस) ने कहा कि इस वर्ष मंडियों में गेहूं की खरीद बहुत ही बढि़या ढंग से हुई है। उन्होंने कहा कि इस बार न तो किसानों को किसी भी प्रकार की कोई समस्या आने दी गई और न ही फसल की अदायगी को लेकर किसानों को परेशान होना पड़ा। विधायक धालीवाल ने इसका श्रेय पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को देते हुए कहा कि सीएम के नेतृत्व में पंजाब की सभी मंडियों में गेहूं की खरीद का काम बहुत ही शानदार रहा है जिसके नतीजे के रुप में साल 2020 के मुकाबले साल 2021 में गेहूं की ज्यादा पैदा देखने को मिली है।

उन्होंने कहा कि गेहूं की खरीद व्यवस्था को सुचारु ढंग से चलाने के लिए उनकी ओर से समय-समय पर जिला खुराक व सप्लाई कंट्रोलर, जिला मंडी अधिकारी, खरीद एजेंसियों के जिला मैनेजरों, आढ़ती एसोसिएशनों के प्रतिनिधियों संग बातचीत की गई और किसानों की बेहतरी के लिए लगातार कदम उठाए गए। विधायक धालीवाल ने कहा कि पंजाब सरकार की ओर से गेहूं की सरकारी खरीद 10 अप्रैल से शुरू की गई थी। जिसके तहत जिले की मंडियों में खरीद के लिए 3.59 लाख मीट्रिक टन गेहूं की आमद होने का अनुमान था। मुख्यमंत्री की ओर से किए गए शानदार प्रबंधों के चलते फगवाड़ा की मंडियों में इस बार करीबन सवा दौ लाख गेहूं की बोरियों की आमद ज्यादा हुई है। विधायक ने कहा कि उनकी ओर से स्थानीय प्रशासन को फगवाड़ा में गेहूं की सुचारु तौर पर खरीद के लिए मंडियों की साफ सफाई, पीने वाले साफ-सुथरे पानी, बिजली, बारदाने आदि का पुख्ता प्रबंध करने के दिशा निर्देश दिए गए थे। वहीं कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों कारण इस बार सेहत विभाग की ओर से मंडियों में विशेष कैंप लगाए गए और मंडियों में आने वाले किसानों को कोरोना की वैक्सीन लगाने के साथ-साथ उन्हें इस महामारी के प्रति जागरुक भी किया गया। इसके अलावा मंडियों में आने वाली गेंहू की लिफ्टिंग जल्द से जल्द करवाने के साथ-साथ किसान भाईयों के खाते में गेंहू की फसल की अदायगी को सुनिश्चित बनाने के लिए कहा गया था। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार ने किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए इस बार हर तरह का प्रबंध किया है ताकि उन्हें अपनी फसल बेचने को लेकर कोई परेशानी न हो। मुख्यमंत्री की ओर से फसल की अदायगी को निर्धारित समय पर सीधे किसानों के खातों में डाला गया और श्रमिकों को भी तय समय में अदायगी की गई। इसके अलावा शुरुआत में आई बारदाने की कमी को भी पंजाब सरकार ने दूर किया और बारदाना उपलब्ध करवाया। उन्होंने खरीद को लेकर किए गए बेहतर प्रबंधों के लिए सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह का धन्यवाद किया।

Edited By: Jagran