संवाद सहयोगी, सुल्तानपुर लोधी : शहर के नजदीकी गांव शिकारपुर में बुधवार रात एक बजे अज्ञात लुटेरों ने तेजधार हथियारों से बुजुर्ग दंपती के सिर पर वार कर तथा गला काट कर हत्या कर दी। वीरवार सुबह पड़ोसियों ने दंपती के घर में शव देखा जिसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी। दंपती की हत्या से गांव में दशहत का माहौल है। मृतक की पहचान गांव शिकारपुर के रहने वाले 75 साल के जरनैल सिंह और उनकी पत्नी 65 साल की जोगिंदर कौर के रूप में हुई है। थाना सुल्तानपुर लोधी की पुलिस ने तीन अज्ञात व्यक्तियों पर हत्या का केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

लुटेरों ने हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद कमरे की तलाशी ली थी। सारा सामान इधर-उधर बिखरा पड़ा मिला। वारदात को लूट के नजरिये से देखा जा रहा है लेकिन यह भी आशंका जताई जा रही है कि इस दोहरे हत्याकांड के पीछे कोई रंजिश जा पुरानी दुश्मनी भी हो सकती है। पुलिस आस पास गांवों में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज जांच कर रही है। सीसीटीवी फुटेज में पुलिस को एक संदिग्ध कार दिखी है लेकिन अभी कोई भी पुलिस अधिकारी इस बात की पुष्टी नहीं कर रहे हैं। मृतक जरनैल सिंह और उनकी पत्नी जोगिदर कौर बुधवार को रात के वक्त घर में सो रहे थे। आधी रात के वक्त घर की दीवार फांद कर कुछ लोग घर में दाखिल हुए तथा जरनैल सिंह व उसकी पत्नी के सिर पर कई वार किए जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद घर की पूरी तरह तलाशी ली गई है। अलग-अलग पहलु को ध्यान में रखकर की जा रही जांच : डीएसपी

घटनास्थल पर एसपी हेड क्वार्टर मनदीप सिंह, एसपी सरबजीत सिंह, डीएसपी सुल्तानपुर लोधी सरवन सिंह बल एवं थाना सुल्तानपुर लोधी के एसएचओ सर्बजीत सिंह पुलिस कर्मियों के साथ पहुंचे तथा जांच की। डीएसपी सरवन सिंह बल व एसएचओ सर्बजीत सिंह ने बताया कि पुलिस वारदात के अलग-अलग पहलू को ध्यान में रखकर जांच कर रही है। डीएसपी सरवन सिंह बल ने बताया इलाके में लगे सभी सीसीटीवी कैमरों की फुटेज की जांच की जा रही है। उन्होनें बताया कि यह घटना चोरी की लग रही है लेकिन सामान के नुकसान का अभी तक कोई अंदाजा नही लग सका है। मृतक के दो बेटे हैं। एक विदेश में रहता है तथा दूसरे बेटा बलविदर सिंह सुल्तानपुर लोधी में मेडिकल शाप चलाता है। मृतक जरनैल सिंह अपनी पत्नी के साथ पिछले कई सालों से गांव में रह रहे थे।

माता-पिता की किसी से दुश्मनी नहीं : बलविंदर

मृतक का पुत्र बलविदर सिंह ने बताया कि पड़ोसी ने उन्हें फोन करके घटना की जानकारी दी। शिकारपुर स्थित घर पहुंचने पर देखा कि माता-पिता का खून से लथपथ शव आंगन में पड़ा था। उन्होंने बताया कि उनके माता-पिता की किसी के साथ कोई पुरानी रंजिश नही थी। एसएचओ सरबजीत ने बताया कि वह इस मामले को जल्द ही ट्रेस कर लेंगे। आरोपितों को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस