संवाद सहयोगी, सुभानपुर : गांव बताला से किसान यूनियन की अगुआई में 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली में शामिल होने के लिए 11 ट्रैक्टरों पर किसानों का जत्था रवाना हुआ। जत्थे को किसान जसविदर सिंह बल, पूर्व सरपंच गुरजाप सिंह बताला ने रवाना किया। उन्होंने कहा कि किसान अपना हक लेकर ही घर लौटेंगे। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार कृषि सुधार कानून लागू कर किसानों से धक्केशाही कर रही है। केंद्र सरकार ने किसानों को विश्वास में लिए बिना ही कृषि कानून लागू कर दिया। इससे किसानों का नुकसान होगा। इस मौके पर हरजिदर सिंह, कुलविदर सिंह, केवल सिंह, मक्खन सिंह, सुलख्खन सिंह, सरवन सिंह, बलविदर सिंह, भुपिदर सिंह, अमनदीप सिंह बल, सरबन सिंह, धनवंत सिंह, राजा सिंह, जसवंत सिंह, जगजीत सिंह मौजूद थे।

आंदोलन में मारे गए किसानों के परिवार को मुआवजा देना सराहनीय : दलजीत राजू

संवाद सहयोगी, फगवाड़ा : दिल्ली के सिंघू बार्डर पर कृषि कानून के विरोध में चल रहे आंदोलन के दौरान मारे गए किसानों के परिवारों को पाच-पाच लाख की आर्थिक सहायता के साथ परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की घोषणा प्रशसनीय है। प्रदेश सरकार के इस निर्णय से मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह किसानों के मसीहा बन कर उभरे हैं। यह बात ब्लाक काग्रेस फगवाड़ा देहाती के प्रधान दलजीत राजू ने कही। उन्होंने कहा कि किसानों का संघर्ष अब आखिरी दौर में है क्योंकि केंद्र सरकार डेढ़ साल तक कानूनों को लागू न करने की बात पहले ही मान चुकी है। 26 जनवरी की ट्रैक्टर परेड के बाद सरकार के सभी भ्रम दूर हो जाएंगे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021