संवाद सहयोगी, फगवाड़ा : नशा यूं तो एक बीमारी है, जिसे लग जाए, वे इसकी पूर्ति के लिए किसी भी अंजाम तक पहुंच सकता है, ऐसा ही मामला फगवाड़ा के नानक नगरी में देखने को मिला है। यहां पर बुजुर्ग माता-पिता ने अपने ही बेटे पर उनसे नशे की पूर्ति के लिए मारपीट एवं घर में सामान की तोड़फोड़ करने के आरोप लगाए हैं। पीड़ित खरैती लाल एवं उनकी पत्‍‌नी महेश कुमारी निवासी नानक नगरी ने बताया कि वे शुक्रवार को अपने घर पर बैठे थे कि इस दौरान उनका नशेड़ी बेटा घर में आया और आते ही घर का सारा सामान तोड़ने लग गया। वहीं नशे की पूर्ति के लिए उनका बेटा उनसे पैसों की डिमांड करने लगा, पैसे न मिलने पर बेटे अर्शदीप ने घर का सारा सामान तोड़ना शुरू कर दिया। उन्होंने बताया कि अर्शदीप को घर से बेदखल कर रखा है और उनकी ओर से पुलिस को भी अपने बेटे के खिलाफ कार्रवाई करने को लेकर थाना सतनामपुरा पुलिस को शिकायत दी जा चुकी है। लेकिन पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। पीड़ित अभिभावकों ने मांग की है कि उनके बेटे को पकड़कर नशा मुक्ति केंद्र में भेजा जाए, ताकि वे नशे की लत से दूर हो सके।

वहीं, थाना सतनामपुरा के एएसआइ जसविंदर पाल ने बताया कि मामला उनके संज्ञान में है, पुलिस की ओर से जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!