संवाद सहयोगी, फगवाड़ा : विधानसभा फगवाड़ा के गांव नई आबादी नारंगशाहपुर की पंचायत ने सरपंच कमलेश रानी के नेतृत्व में शुक्रवार को एसडीएम दफ्तर के समक्ष धरना दिया। धरने में मंडल भाजपा फगवाड़ा के प्रधान परमजीत सिंह के अलावा पूर्व मेयर अरुण खोसला शामिल हुए। भाजपा नेताओं की उपस्थिति में सरपंच कमलेश रानी ने बताया कि उनके गांव में सीवरेज की मस्या नहीं है लेकिन फिर भी नई पाइपलाइन डाली जा रही है जिस पर 13.71 लाख रुपये रुपये बिना वजह खर्च होगा। यह पंचायत को मंजूर नहीं हैं क्योंकि नई सीवरेज पाइप लाइन की जगह आवश्यकता अनुसार पुरानी पाइप लाईन की थोड़ी बहुत मरम्मत की जा सकती है तथा 13.71 लाख रुपये गांव के अन्य आवश्यक विकास कार्यों पर खर्च किया जाना चाहिए। उन्होंने बताया कि बीडीपीओ सुखदेव सिंह को जब इस बारे पंचायत की तरफ से प्रस्ताव पास करके कहा गया तो उन्होंने पंचायत के साथ दु‌र्व्यवहार किया जो असहनीय है। प्रदर्शनकारियों ने एक ज्ञापन पत्र भी एसडीएम फगवाड़ा कुलप्रीत सिंह को सौंपा जिन्होंने बीडीपीओ कपूरथला को मामले में उचित कार्रवाई की मांग की गई। इस दौरान अरुण खोसला ने कहा कि सरकारी खजाना जनता की अमानत होता है। इसलिए जनता के पैसों का दुरुपयोग बिल्कुल नहीं होने दिया जाएगा। इस अवसर पर भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता अवतार सिंह मंड, पूर्व सरपंच रमेश लाल, मेंबर पंचायत कश्मीर कौर, बख्शो, पूर्व नगर कौंसिल प्रधान बलभद्र सेन दुग्गल, निक्की शर्मा, पूर्व पार्षद बीरा राम बलजोत, पूर्व पार्षद जसविन्द्र कौर, चन्द्रेश कौल, भारती शर्मा, हरिमित्र चड्ढा, दिनेश दुग्गल, वरुण नांगला, भाजयुमो के जिला महासचिव नितिन चड्ढा, लक्की सरवटा सहित अन्य भाजपा कार्यकर्ता तथा गांव नई आबादी नारंगशाहुपर के निवासी उपस्थित थे।

Edited By: Jagran