हरनेक ¨सह जैनपुरी, सुल्तानपुर लोधी/(कपूरथला)

श्री गुरु नानक देव जी के 2019 में मनाए जा रहे 550 वें प्रकाशोत्सव की तैयारियों को लेकर मुख्यमंत्री कैप्टन अम¨रदर ¨सह की ओर से सोमवार को संत समाज के साथ सुल्तानपुर लोधी में बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में बरगाड़ी व बेअदबी कांड का मुद्दा हावी रहा। इस दौरान बेअदबी व बरगाड़ी के दोषियों को सजा दिलाने की संत समाज से भी जोरदार आवाज उठी, जिससे पूर्व मुख्यमंत्री एवं शिरोमणि अकाली दल के लिए अग्नि परीक्षा जैसी परिस्थिति पैदा हो सकती है।

बैठक के दौरान बाबा सर्वजोत ¨सह बेदी ने मुख्यमंत्री से मुखातिब होते हुए कहा कि कैप्टन साहब, बरगाड़ी कांड व बेअदबी के दोषियों खिलाफ कारवाई विधानसभा के फ्लोर तक ही सीमत नही रहनी चाहिए बल्कि विधानसभा से बाहर व्यवहारिक तौर पर इस कार्रवाई को जल्द अमल में लाया जाए। फतेहगढ़ साहिब वाले बाबा हरी ¨सह रंधावा ने कहा कि बरगाड़ी व बेअदबी कांड के दोषी बेशक खुद को पाक साफ बता रहे हैं। अगर इन्होंने समय रहते असल दोषियों खिलाफ कार्रवाई की होती तो नौबत यहा तक नही पहुंचती। इसलिए सीएम साहब शबद गुरु श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी और बेगुनाहों पर गोलियां चलाने का हुक्म देने वालों को कतई बख्सा ना जाए, नही तो इतिहास आप को कभी माफ नही करेगे।

गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी को लेकर जस्टिस रणजीत ¨सह रिपोर्ट में जिन जिन आरोपियों पर उंगली उठी है, उनके खिलाफ तुरंत कारवाई होनी चाहिए। इस पर कैप्टन को कहना पड़ा कि किसी से नरमी नहीं बरती जाएगी बल्कि कानून मुताबिक जल्द कार्रवाई की जाएगी। कैप्टन अम¨रदर ¨सह ने संत समाज को आश्वासन दिलाया कि विधान सभा में बरगाड़ी व बेअदबी के दोषियों के खिलाफ एतिहासिक प्रस्ताव पास हुआ है। मामले में आरोपितों को बख्शा नही जाएगा। आरोपियों को जल्द सजा मिलेगी।

उधर, सुल्तानपुर लोधी में विशेष तौर पर पहुंचे जेल मंत्री सुख¨जदर ¨सह रंधावा ने कहा कि बेअदबी व बरगाड़ी के दोषियों खिलाफ पर्चे दर्ज कर उन्हे जेल भी भेजा जाएगा और कचहरी तक भी उन्हें लेकर जाएंगे।

मुख्यमंत्री कैप्टन अम¨रदर ¨सह की संत समाज के साथ विशेष बैठक रखी गई थी। बैठक में मीडिया को जाने की अनुमति नहीं देने से सुल्तानपुर लोधी के सभी पत्रकारों की ओर से मुख्यमंत्री का बायकाट करने का फैसला लिया गया। बैठक में पंजाब के विभिन्न जिलों ही नही, दूसरे राज्यों से भी संत उपस्थित थे।

Posted By: Jagran