संवाद सहयोगी, कपूरथला : गत ढाई महीनों से बजट न आने के कारण बिना वेतन से मुश्किलों का सामना कर रहे जिले के ईटीटी अध्यापकों ने यूनियन के झंडे के नीचे जिला शिक्षा अफसर एलिमेंट्री के दफ्तर के समक्ष एक दिवसीय भूख हड़ताल की और सरकार खिलाफ प्रदर्शन किया।

इस दौरान जिला प्रधान रछपाल ¨सह वडैंच, जिला महासचिव गुरमेज ¨सह तलवंडी के नेतृत्व में इस भूख हड़ताल में जिले भर से बड़ी संख्या में अध्यापकों ने साथ दिया। धरने को संबोधन करते हुए पंजाब समिति के सदस्य दलजीत ¨सह सैणी ने कहा कि सरकार जानबूझ कर अध्यापकों को परेशान कर रही है। बिना वेतन से अध्यापकों को आर्थिक परेशानियों से गुजरना पड़ रहा है। इस दौरान अध्यापकों ने पंजाब सरकार व शिक्षा विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। इस धरने में बड़ी संख्या में महिला अध्यापक भी शामिल हुई। सुबह करीब 9 बजे से शाम 4 बजे तक इस धरने को अध्यापकों ने जारी रखा। भूख हड़ताल में शामिल अध्यापकों ने सरकार से मांग की कि वेतन संबंधी बजट तुरंत जारी किया जाए। ब्रिज पाठ्यक्रम करने संबंधी जारी पत्र वापस लिया जाए। बीएलओ ड्यूटी कर रहे अध्यापकों से डाटा आपरेटर काम न लिया जाए और बिना सहमति पर लगाए गए सीएमटी, बीएमटी फारिए किए जाएं। अंत में अध्यापकों ने अपनी मांगों को पूरा करवाने के लिए डीसी मोहम्मद तय्यब को मांग पत्र भी सौंपा। इस अवसर पर ब्लाक प्रधान लक्षदीप शर्मा, ब्लाक प्रधान-1 ¨शदर ¨सह, सुख¨वदर कालेवाल, करमजीत, गुरदेव ¨सह, द¨वदर ¨सह, याद¨वदर ¨सह, कमल बावा, पंकज मरवाहा, जस¨वदर ¨सह, अमनदीप, जसबीर चीमा, अवतार ¨सह, सत¨वदर कौर, सपना देवी, विशाली, योगेश कुमार, जगजीत ¨सह, हर¨मदर ¨सह, परमजीत चौहान, विकासदीप व अन्य सदस्य उपस्थित थे।

By Jagran