संवाद सहयोगी, फगवाड़ा : पंजाब कांग्रेस के अनुसूचित जाति से जुड़े बड़े नेता व पूर्व कैबिनेट मंत्री जोगिंदर सिंह मान ने कांग्रेस को अलविदा कहकर आम आदमी पार्टी से हाथ मिला लिया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री एवं आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविद केजरीवाली ने उन्हें पार्टी में शामिल किया। बता दें कि कांग्रेस की पार्टी की ओर से जोगिदर सिंह मान 1985 में पहली बार फगवाड़ा से विधायक बने थे। इसके बाद उन्होंने 1992 में भी फगवाड़ा से चुनाव लड़ा जिसमें वह फिर चुनाव जीत और पंजाब सरकार में पीडब्लयूडी मंत्री भी बने। 1997 में वे चुनाव हार गए परंतु 2002 में फिर कांग्रेस ने उन पर विश्वास जताया और फगवाड़ा से तीसरी बार विधायक बने व सरकार में सामाजिक सुरक्षा मंत्री बने। इसके बाद 2007 व 2017 में कांग्रेस पार्टी ने इन पर विश्वास जताया परंतु वह हार गए। अब मौजूदा सरकार में वह पंजाब एग्रो इंडस्ट्रीज निगम (कैबिनेट रैंक) के चेयरमैन थे। शुक्रवार उन्होंने कांग्रेस से त्यागपत्र दे दिया। आम आदमी पार्टी की ओर से उन्हें फगवाड़ा विधानसभा क्षेत्र से अपना उम्मीदवार घोषित किया जा सकता है।

आप नेता जोगिंद्र सिंह मान का किया स्वागत

संवाद सहयोगी, फगवाड़ा : कांग्रेस को अलविदा कहने के बाद शुक्रवार को दिल्ली में आम आदमी पार्टी में शामिल होकर फगवाड़ा पहुंचने पर जोगिंद्र सिंह मान का शनिवार उनके समर्थकों और आप वर्करों की तरफ से भव्य स्वागत किया गया। जोगिन्द्र सिंह मान फगवाड़ा पहुंच कर सबसे पहले बंगा रोड स्थित श्री विश्वकर्मा मंदिर में नतमस्तक हुए। इसके बाद गुरु हरगोबिन्द नगर स्थित डा. आंबेडकर पार्क में स्थापित बाबा साहब की प्रतिमा को फूलमाला भेंट करके आशीर्वाद लिया। मान ने कहा कि पिछले 15 वर्षों में फगवाड़ा का विकास पिछड़ गया है लेकिन उनकी प्राथमिकता विकास को गति देना और फगवाड़ा को नए शिखर पर ले जाना होगी। सबसे बड़ा एजेंडा फगवाड़ा को जिला का दर्जा दिलाना होगा क्योंकि यहां के निवासियों को अपने प्रशासनिक कार्यों के लिए लंबी दूरी तय करनी पड़ती है।

Edited By: Jagran