संवाद सहयोगी, कपूरथला : डेमोक्रेटिक टीचर फ्रंट कपूरथला की मीटिग जिला प्रधान अश्वनी टिब्बा की प्रधानगी में आज हुई। इसमें डीटीएफ के नेताओं सुखचैन सिंह, जैमल सिंह, बलविंदर भंडाल और तजिंदर सिंह ने कहा कि सातवें केंद्रीय वेतन आयोग को लागू करने के बाद पंजाब सरकार ने प्रदेश में सभी आईएएस, आईपीएस और आईएफएस आधिकारियों को केंद्रीय पैटर्न पर महंगाई भत्ते की बकाया किश्तें जारी करने के साथ ही भविष्य में केंद्र की तरफ से महंगाई भत्तो का ऐलान होने पर प्रदेश की तरफ से कोई अलग हुक्म न जारी करने का फैसला कर दिया है।

इस फैसले से लंबे समय से 25 प्रतिशत बकाया महंगाई भत्ता और छठे पंजाब वेतन आयोग की रिपोर्ट जारी होने का इंतजार कर रहे प्रदेश के लाखों कर्मचारियों व पेंशनर्स में रोष है। डीटीएफ इस पक्षपाती रवैये की सख्त शब्दों में निदा करती है। नेताओं कहा कि मुख्यमंत्री की तरफ से सरकार बनने के पहले सौ दिनों में वेतन आयोग देने के किये ऐलान के उल्ट जनवरी से लागू करके बनते छठे पंजाब वेतन आयोग की रिपोर्ट को भी ठंडे बस्ते में डाल रखा है।

इस मौके पर डीटीएफ नेता राजेश मैंगी, सुखदेव सिंह, हरभजन सिंह, बलजीत बब्बा, पवन कुमार, मलकीत सिंह, अवतार सिंह, सुरिन्दरपाल सिंह, नरिन्दर औजला, गुरमुख लोकप्रेमी, कंवरदीप सिंह केडी, जगजीत राजू, राकेश कुमार, बलवीर सिंह, गुरदीप धम्म, रोहत शर्मा, परमिन्दरजीत सिंह, सुखदेव सिंह, जगमोहन सिंह, जसविन्दर टिब्बा, सुखपाल सिंह, नवकिरन सिंह, अश्वनी ग्रोवर, बख्शीश सिंह, बलविन्दर कुमार, राजेश पठानिया आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!