संवाद सहयोगी, कपूरथला : शालीमार बाग में स्थित नगर निगम दफ्तर के बाहर मंगलवार को कर्मचारियों ने मांगों को लेकर धरना दिया। कर्मचारियों ने पंजाब सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस दौरान कर्मचारियों ने कामकाज बंद रखा। पानी के बिल, तह बाजारी विभाग व नक्शा विभाग में कोई भी काम नहीं किया गया जिसके कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। शहर में सफाई सेवकों ने सफाई व्यवस्था की तरफ भी ध्यान नहीं दिया गया।

यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष सरदारी लाल शर्मा व प्रदेश सीनियर उपाध्यक्ष गोपाल थापर ने बताया कि कर्मचारियों की वार्षिक पदोन्नति और एसीपी तुरंत लगाई जाए। सरकार की तरफ से बनता बकाया कर्मचारियों को जल्द दिया जाए। कर्मचारियों की बनती पदोन्नति के आवदेन व पेंडिग पड़े केसों का जल्द निपटारा किया जाए। काफी लंबे समय बीत जाने के कारण भी इन आवेदनों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है। दर्जा-4 कर्मचारियों को साबुन व तेल दिया जाए, कर्मचारियों का पेंडिंग पीएफ जमा करवाया जाए। सफाई सेवकों को अपने क्षेत्रों में सफाई करने में आ रही मुश्किलों का हल तुरंत पहल के आधार पर किया जाए। कच्चे कर्मचारियों का पुराना ईपीएफ तुरंत उनके खाते में जमा करवाया जाए। सरदारी लाल शर्मा ने चेतावनी दी कि यदि उक्त मांगों को पूरा नहीं किया गया, तो आने वाले दिनों में इस संघर्ष को ओर तेज किया जाएगा। शाम करीब पांच बजे तक कर्मचारियों ने धरना दिया। इस मौके पर सीनियर उपाध्यक्ष विक्रम घई, मनोज रत्ती, राजेश सहोता, अनिल सहोता, संजय धीर, भजन सिंह, प्रितपाल सिंह, लखवीर सिंह, नरेश, संजीव कुमार, नरिदर सिंह, गुरदीप सिंह, पवन रेखा, बिमला देवी, कृष्णा, आशा रानी, रेखा रानी, चेतना और कर्मचारी उपस्थित रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप