संवाद सहयोगी, कपूरथला : श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाशोत्सव को समर्पित धार्मिक समारोहों के क्रम के तहत गुरुद्वारा साहिब भुपाल जठेरे की प्रबंधक कमेटी व समूह संगत के सहयोग से बाल कीर्तन दरबार करवाया गया। इस अवसर पर छोटे छोटे बच्चों ने मूलमंत्र, जपुजी साहिब, चौपाई साहिब जी के पाठ कंठ करवाए व गुरबाणी कीर्तन से संगत को निहाल किया। स्टेज की भूमिका निभाते हुए सुखमिदर मोहन सिंह ने नौजवानों व बच्चों को अध्यात्मिक विद्या के साथ जुड़ने का संदेश दिया। इसके अलावा उन्होंने युवाओं को सोशल मीडिया से परहेज करके कीर्तन विद्या व ज्ञान को जीवन का अहम हिस्सा बनाने का संदेश दिया। हेड ग्रंथी भाई सतपाल सिंह ने बच्चों को बधाई देते हुए ओर तरक्की करने की शिक्षा दी व बच्चों के माता-पिता, गुरु व अध्यापक की ओर से दी गई सिखलाई की प्रशंसा की। प्रबंधकों ने अलग-अलग सहयोगी हस्तियों व बच्चों को सम्मान चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर डॉ. राजेश्वर सिंह अरोड़ा, तरविदर मोहन सिंह भाटिया, सुच्चा सिंह खिडा, जोगिदर सिंह, सरदूल सिंह, साधू सिंह, कैप्टन बलजीत सिंह बाजवा, सुरिदंर सिंह, केहर सिंह, निहाल सिंह, धनप्रीत सिंह भाटिया, सहजबीर सिंह, साहिबदीप सिंह, गुरदीप सिंह वालिया व अन्य उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!