जागरण संवाददाता, जालंधर

वीरवार देर रात 9:30 बजे के करीब जालंधर बस स्टैंड के बाहर अरमान टूर एंड ट्रैवल्स के दफ्तर के पीछे बर्थडे पार्टी के दौरान हुए गोलीकांड में एक 19 साल के युवक की मौत हो गई। इसमें दो युवक घायल हो गए। युवक के साथ मौजूद मामूली रूप से घायल हुए साथियों ने उसे सिविल अस्पताल पहुंचाया, जहां करीब एक घंटे के बाद उसकी मौत हो गई। मौके पर पहुंचे एडीसीपी सोहेल कासिम मीर, एसीपी गुरप्रीत सिंह गिल, थाना छह और नई बारादरी की पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। मृतक के स्वजनों और उसके साथ मौजूद उसके बुआ के बेटे के बयान दर्ज हुए।

एडीसीपी सोहेल ने बताया कि बर्थडे पार्टी के दौरान हुए विवाद में 19 साल के अनिकेत उर्फ लकी गिल पुत्र कुलविदर राय गिल निवासी अर्जुन नगर, लाडोवाली रोड की मौत हो गई है। वहीं दो लोग मामूली रूप से घायल हुए हैं, जिन्हें सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बयान दर्ज करने के बाद कार्रवाई की जाएगी। उधर, अनिकेत के बुआ के बेटे पवन निवासी अर्जुन नगर ने बताया कि वह आटो चलाता है। उनके मामा का बेटा अनिकेत एक इमीग्रेशन के दफ्तर में काम करता था। वीरवार को दफ्तर बंद होने के बाद शाम छह बजे के करीब उसके पास टैक्सी स्टैंड पर पहुंचा। रात 9:30 बजे के करीब ट्रैवल एजेंट के दफ्तर में कुछ लोग बर्थडे पार्टी मना रहे थे। इस दौरान मौके पर शराब भी चल रही थी। अनिकेत वहां अकेला खड़ा था। अचानक जन्मदिन मना रहे युवक अनिकेत से भिड़ गए और उससे मारपीट करने लगे। इस दौरान अनिकेत के रिश्ते के भाई पवन और आटो चलाने वाले केपी निवासी मिट्ठापुर ने बीच-बचाव की कोशिश की तो हमलावरों ने उन पर भी लाठी-डंडों से हमला कर दिया, जिसमें पवन और केपी भी घायल हो गए। इसके बाद हमलावरों ने गोली मारकर अनिकेत की हत्या कर दी। फिर मौके से फरार हो गए। चश्मदीद पवन और केपी की मानें तो उनकी हमलावरों से कोई जान पहचान नहीं है। सीने की बाई तरफ मारी गोली

पुलिस की शुरुआती जांच में सामने आया है कि अनिकेत की मौत सीने की बाई तरफ पसलियों में गोली लगने से हुई है। अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि अनिकेत को जो गोली लगी है, वह पिस्टल की है या फिर किसी अन्य हथियार की। हालांकि पुलिस ने मौके से 32 बोर की पिस्टल के दो खोल बरामद किए हैं।

------------- तीन बहनों का इकलौता भाई था अनिकेत

अनिकेत तीन बहनों का इकलौता भाई था। उसके पिता कुलविदर गिल हवेली रेस्टोरेंट में ड्राइवर का काम करते हैं। कुलविदर के किसी भी बच्चे की अभी शादी नहीं हुई है। पवन की मानें तो अनिकेत ने दसवीं तक की पढ़ाई की थी और फिर लाकडाउन के दौरान पढ़ाई छोड़ कर इमीग्रेशन के दफ्तर में काम करने लगा था। पुलिस ने रात 12 बजे कई संदिग्धों को उठाया

मामले में देर रात 12 बजे के करीब स्वजनों के बयान दर्ज करने के बाद आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज करने की तैयारी शुरू कर दी गई है। वहीं पुलिस ले मामले में शामिल कुछ लोगों की पहचान कर ली है, जिसके बाद पुलिस ने देर रात कई संदिग्धों को पूछताछ के लिए उठाया है। माना जा रहा है कि देर रात पुलिस आरोपितों की गिरफ्तारी दिखा सकती है।

Edited By: Jagran