जालंधर, जेएनएन। मुस्लिम कॉलोनी के साथ सटे अजीत नगर में किराए के मकान में रहने वाले 20 वर्षीय युवक ने मकान मालिक से तंग आकर खुदकुशी करने के लिए ट्रेन के आगे छलांग लगा दी। गनीमत रही कि उसकी जान बच गई। उसे सिविल अस्पताल दाखिल करवाया गया है, जहां इलाज के बाद उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।

सोमवार दोपहर को बशीरपुरा फाटक के पास रेलवे ट्रैक पर मालगाड़ी के आगे युवक ने छलांग लगा दी। वह बच गया, लेकिन गंभीर रूप से घायल हो गया। उस दौरान मौके पर पहुंचे लोगों से युवक ने बेसुध हालत में कहा कि उसके पास पैसे नहीं हैं। वह दिहाड़ी कर अपना खर्चा पानी चलाता था और मकान का किराया अदा करता था। अब कोई काम नहीं है। इस कारण पैसे भी नहीं हैं, जिससे वह घर का किराया दे सके। उसका मकान मालिक उस पर किराया अभी अदा करने के लिए दबाव बना रहा है।

पुलिस ने कहा, घरवालों ने मकान मालिक के खिलाफ शिकायत नहीं दी

मामले की जांच कर रहे थाना जीआरपी के एएसआइ सुखदेव सिंह ने बताया कि खुदकुशी की कोशिश का उक्त कारण युवक ने पुलिस के सामने नहीं बताया। पुलिस के पहुंचने के बाद उसे तुरंत सिविल अस्पताल भर्ती कराया गया। जहां इलाज के बाद उसकी हालत में सुधार तो आया है, लेकिन डॉक्टर के मुताबिक वह अभी पुलिस बयान देने की हालत में नहीं है। युवक के जालंधर में रहते परिजनों ने भी उसके मकान मालिक के खिलाफ कोई शिकायत नहीं दी। युवक के बयान दर्ज करने के बाद ही पुलिस मामले में आगे की कार्रवाई करेगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!