जालंधर, जेएनएन। जालंधर के फिल्लौर थाना क्षेत्र में बीते शुक्रवार सुबह एक 52 साल की महिला ने खुद को घर के पीछे बनी हवेली के शौचालय में बंद कर आत्मदाह कर लिया। घटना की जानकारी परिजनों को तब हुई जब महिला काफी देर तक वापस नहीं आई। महिला के वापस ना आने पर जब परिवार वालों ने उसकी तलाश शुरू की तो घर के पीछे बनी हवेली के शौचालय से धुआं उठता हुआ दिखाई दिया। परिजन जब शौचालय के पास पहुंचे तो उसका दरवाजा अंदर से बंद था जिसके बाद घटना की सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने जब दरवाजा तोड़ा तो अंदर से बदबू और धुआं निकलने लगा। धुआं निकलने के बाद पुलिस को शौचालय के अंदर महिला का कंकाल पड़ा हुआ मिला जो की बुरी तरीके से जल चुका था।

प्रारंभिक जांच में यह सामने आया है कि महिला ने खुद पर कोई ज्वलनशील पदार्थ डालकर आग लगा दी थी। मृतक महिला की पहचान सुरेंद्र कौर निवासी गढ़ा रोड के रूप में हुई है जिसके दो बेटे और दो बेटियां हैं। परिजनों ने पुलिस को बताया कि मृतक महिला कमेटियां डालती थी और कुछ लोगों ने कमेटी उठाने के बाद उसके रुपए वापस नहीं किए जिसके चलते कमेटी के बाकी सदस्य अपने पैसे लेने के लिए आए दिन महिला के पास आते थे। जिसे लेकर महिला मानसिक रूप से काफी परेशान चल रही थी। घटना को लेकर फिल्लौर थाना प्रभारी संजीव कपूर का कहना है कि शव को अपने कब्जे में ले लिया गया है और परिजनों के बयान के आधार पर घटना की जांच की जा रही है। जिसके बाद आत्महत्या का कारण स्पष्ट हो सकेगा।

मृतका के परिजनों ने बताया कि शुक्रवार सुबह 9 बजे वह घर से बिना बताए निकल गई थी। काफी देर तक वापस ना आने पर करीब 12 बजे उन्होंने महिला की तलाश करनी शुरू की। इस दौरान उन्हें घर के पीछे बनी भैंस रखने वाली हवेली के शौचालय से धुआं निकलता हुआ दिखाई दिया जिसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई।

Edited By: Vinay Kumar