जेएनएन, जालंधर। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि पूरे देश में शाहकोट उपचुनाव में कांग्रेस की जीत की हवा चल रही है। यह लहर मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ आदि राज्यों में होने वाले चुनावों को भी प्रभावित करेगी। य‍ह जीत से राज्‍य में कांग्रेस को बड़ी शक्ति मिली है आैर उसका बहुमत दो तिहाई हाे गई है।

कैप्टन अमरिंदर सिंह वीरवार को शाहकोट की दानामंडी में आयोजित कांग्रेस की रैली को संबोधित कर रहे थे। इस धन्‍यवाद रैली का आयो‍जन शाहकोट उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी को जीत दिलाने के उपलक्ष्य में किया गया था। रैली में पंजाब की पूर्व मुख्यमंत्री राजिदंर कौर भट्ठल भी मौजूद थीं।

कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने शाहकोट क्षेत्र के लाेगों का आभार जताया। मुख्यमंत्री ने कहा कि 1966 में पंजाब के गठन के बाद शाहकोट हलके में यह पंजाब कांग्रेस की बड़ी जीत है। इसने कांग्रेस को विधानसभा में दो तिहाई बहुमत प्रदान कर दिया है। उन्होंने कहा कि 50 वर्ष से भी ज्यादा समय में कांग्रेस मात्र एक ही बार 1992 में शाहकोट हलके का चुनाव जीत सकी थी। वह भी उस समय अकालियों ने चुनावों का बायकाट कर रखा था।

शाहकोट में आयोजित धन्‍यवाद रैली में मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह।

धन्यवाद रैली के दौरान शाहकोट से जीत दर्ज करने वाले हरदेव सिंह लाडी शेरोवालिया, सांसद चौधरी संतोख सिंह एवं विधायक राणा गुरजीत सिंह ने संबोधन में दोआबा क्षेत्र समेत शाहकोट हलके के विकास को लेकर मुख्यमंत्री के समक्ष मांगों की लंबी फेहरिस्त रखी। हालांकि कैप्टन ने एक भी मांग पर कुछ नहीं कहा।

कैप्‍टन सिर्फ इतना ही कहा कि शेरोवालिया चुनाव के दौरान की गई घोषणाओं को उनके पास लाएं और सभी को पूरा किया जाएगा। राणा गुरजीत सिंह ने यह तर्क भी रखा था कि अकाली दल ने दोआबा क्षेत्र को बुरी तरह से नजरअंदाज कर रखा था। दोआबा को मिलने वाला एम्स भी केंद्रीय मंत्री हरसिमरत बादल बठिंडा ले गई हैं।

गुरु रविदास जयंती पर छुट्टी की घोषणा

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने गुरु रविदास महाराज की जयंती पर अवकाश की घोषणा की है। विधायक सुशील कुमार रिंकू समेत बड़ी संख्या में लोग इस अवसर पर छुट्टी करने की मांग कर रहे थे। कैप्टन ने शाहकोट में धन्यवाद रैली मंच से इसका ऐलान किया।

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!