जागरण संवाददाता, जालंधर। जालंधर में दिन में धूप के बावजूद मौसम के मिजाज तेजी से बदलने लगा है। मंगलवार को तापमान में गिरावट आने बाद बुधवार को हल्का उछाल दर्ज किया जाएगा। सप्ताह के अंत तक अधिकतम और न्यूनतम तापमान में अंतर कम होने से दिन में भी ठिठुरन बढ़ने की संभावना है। ऐसा मौसम विभाग का अनुमान है। बुधवार सुबह शहर के बाहरी इलाके में धुंध का आलम रहा। धुंध की वजह से वाहनों की रफ्तार धीमी पड़ गई। लोग दिन के समय लाइटें जलाकर वाहन चलाते दिखें। वाहन सड़कों पर रेंगते दिखे।

 दोपहर के समय तेज धूप खिली रहेगी।

इस दौरान अधिकतम तापमान 22 और न्यूतनम 8 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज होगा। इस कारण आना वाले दिनों में धूप के साथ शीत लहर का चलेगी और लोगों को ठंड ने सताएगी। वहीं दिन ढलते ही तापमान में भारी गिरावट के चलते लोगों को ठिठुरन ज्यादा महसूस होगी। इस बारे में मौसम विशेषज्ञ डा. दलजीत सिंह बताते है कि दिसंबर माह के मध्यांतर तक आसमान में बादल छाए रहने व बारिश की संभावना प्रबल है। इस दौरान अधिकतम व न्यूनतम तापमान में गिरावट का सिलसिला जारी रहेगा।

सिविल अस्पताल के डा. भूपेंद्र सिंह कहते हैं कि मौसम का बदलता मिजाज सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। बुजुर्गों व बच्चों को इससे बचकर रहने की जरूरत है। उन्हें सुबह शहर पर जाने से पहले पूरी तरह से गर्म कपड़ों में पैक हो जाना चाहिए। दिन में खाने के साथ कम से कम दो बार गुनगुने पानी का सेवन करें और खाना भी गरम खाए।

Edited By: Vinay Kumar