जागरण संवाददाता, जालंधर। जालंधर में मंगलवार को शहर के कई इलाकों में तड़के से ही धुंध की चादर बिछी रही। इस दौरान कोहरा गिरने से हवा में नमी की मात्रा बढ़ने से न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई। हालांकि, दोपहर के समय खिली धूप के चलते अधिकतम तापमान की दर 25 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की संभावना है। वहीं, अधिकतम व न्यूनतम तापमान में भारी अंतर के चलते तड़के व रात के समय ठंड में लगातार इजाफा हो रहा है।

दरअसल, मौसम विभाग की ओर से मिली जानकारी के अनुसार सप्ताह के मध्यांतर के बाद आसमान में बादल छाए रहने, तेज हवाएं चलने के साथ बारिश की संभावना भी जताई गई है। इसके साथ ही तापमान में तो गिरावट होगी ही साथ है ठिठुरन भी बढ़ जाएगी। विभाग की माने तो सप्ताह के अंत तक मौसम यथावत रहेगा। जिससे अधिक सर्दी का सिलसिला जारी हो जाएगा। नवंबर के अंतिम दिनों में सर्दी का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। अधिकतम व न्यूनतम तापमान में लगातार गिरावट हो रही है। मंगलवार को दिन भर अधिकतम तापमान 25 व न्यूनतम आठ डिग्री सेल्सियस दर्ज होगा। जबकि, पिछले कई दिनों से न्यूनतम तापमान दस डिग्री तक ही रह रहा था।

इस बारे में मौसम विशेषज्ञ डा. विनीत शर्मा बताते है कि इस सप्ताह मौसम फिर से करवट लेगा। जिसके तहत आसमान में बादल छाए रहने व तेज हवाएं चलने की संभावना प्रबल है। वहीं सिविल अस्पताल की मेडिकल स्पेशलिस्ट डा. ईशु सिंह कहती है कि सर्दी के दौरान नजला जुकाम बुखार के मामले भी बढ़ने लगे। बच्चों का बुजुर्गों को सर्दी से बचाव के लिए गर्म कपड़े पहले चाहिए और दिन में कम से कम 2 बार गुनगुने पानी का सेवन करना चाहिए।

Edited By: Vinay Kumar