जागरण संवाददाता, जालंधर : बस स्टैंड पर बुधवार को पानी की मोटर जल जाने से यात्रियों को दिन भर पानी के लिए तरसना पड़ा। यात्री बस स्टैंड पर बने शौचालय में जाने से भी कतराने लगे। यही कारण रहा कि सुबह कुछ समय के लिए यह शौचालय बंद कर दिए गए।

बस स्टैंड पर लगी पानी की मोटर बुधवार सुबह जल गई, जिस कारण पानी की आपूर्ति नहीं हो सकी। इससे बस स्टैंड पर लगे नल सू्ख गए। शौचालय में सप्लाई देने वाली टंकी भी खाली होने से परेशानी और बढ़ गई। खास बात है कि वैकल्पिक व्यवस्था नहीं होने के चलते बस स्टैंड प्रबंधन ने पानी के टैंकर मंगवाकर पानी की आपूर्ति करनी चाही, जिसमें वे विफल रहे। यात्रियों ने इससे न तो पीने वाला पानी भरा और न ही शौचालय में इससे आपूर्ति हो सकी। सुबह बस स्टैंड पर पहुंचने वाले यात्री इस पानी से मुंह-हाथ ही धोते रहे।

--------

- पानी की बोतलों की बिक्री बढ़ी

बस स्टैंड पर पानी की स्पलाई बंद होने से बोतल बंद पानी की बिक्री बढ़ गई। हर स्टाल पर चाय से अधिक पानी के खरीदार देखे गए। अमृतसर से आए यात्री बिशन लाल ने बताया कि तड़के बस में बैठा था। यहां पर जैसे ही पानी की बोतल भरने की कोशिश की तो नल सूखे मिले। इसके चलते दुकान से बोतल बंद पानी खरीदना पड़ा।

-------

पानी के टैंकर से करवाई आपूर्ति, शाम को करवाया दुरुस्त

बस स्टैंड के जीएम परनीत सिंह ने कहा कि दिन के समय पानी की आपूर्ति करने के लिए पानी के टैंकर जगह-जगह लगाए गए थे। साथ ही रिपेयर का काम जारी रहा। दिन ढलते ही मोटर दुरुस्त करके पानी की सप्लाई बहाल कर दी गई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!