जालंधर, जेएनएन। वाल्मीकि मजहबी सिख मोर्चा के सदस्यों ने वीरवार को रोष मार्च निकालते हुए डीसी दफ्तर के बाहर कैप्टन सरकार का पुतला फूंका। मोर्चा के सदस्यों ने कांग्रेस सरकार पर चुनावी वादे पूरे नहीं करने का आरोप लगाते हुए सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। इससे पहले देशभगत यादगाल हाल में मोर्चा के सदस्यों ने बैठक की और फिर रोष मार्च निकाला।

मोर्चा के पंजाब प्रधान महिंदर सिंह हमीरा ने कैप्टन सरकार पर चुनावी वादे पूरे नहीं करने के आरोप लगाए। हमीरा ने कहा कि सरकार ने बेरोजगारों को रोजगार देने का वादा किया था पर नौजवान बेरोजगार घूम रहे हैं। उनमें निराशा का माहौल है और वे नशा गिरफ्त में फंस रहे हैं। प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति भी बिगड़ी हुई है। अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। गैंगस्टर सरेआम गोलियां चलाकर पुलिस का माखौल उड़ा रहे हैं। पुलिस नशा तस्करों पर भी नकेल नहीं कस पाई है। हमीरा ने आरोप लगाया कि पुलिस मुलाजिम खुद नशा तस्करों से मिलीभगत करके नशा तस्करी कर रहे हैं। पंजाब में पूरी तरह जंगरराज कायम हो गया है। कैप्टन सरकार के सत्ता में आने के तीन साल बीत जाने के बाद कुछ नहीं हुआ।

उन्होंने सरकार से नौजवानों को बेरोजगारी भत्ता, गरीब बेघरों को 5-5 मरले के प्लॉट देने और बुढ़ापा पेंशन दो हजार रुपये करने का वादा करने की मांग की। इस मौके पर यूथ विंग प्रदान सरवन सिंह रोमी, उप प्रधान जत्थेदार जीवन सिंह, महासचिव इंद्रजीत सिंह, गुरनाम सिंह, सूबेदार सुखविंदर सिंह, सुरजीत सिंह भट्टी व अन्य मौजूद थे।

 

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!