जालंधर, जेएनएन। शहर में नशा रोकने के लिए तैनात पुलिस अफसरों की भारी-भरकम फौज के तले उनके ही दो मुलाजिम स्मैक का नशा करते बेनकाब हो गए। मुखबिर नेटवर्क के जरिए बड़े-बड़े नशा तस्करों का दम भरने वाली कमिश्नरेट पुलिस को इसका पता तब चला जब उनकी वीडियो वायरल हुई। खाकी की काली भेड़ों के जनता के सामने बेनकाब होने से शर्मसार हुए अफसरों ने तुरंत केस दर्ज कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

नशा करते बेनकाब हुए पुलिस वालों की पहचान थाना बस्ती बावा खेल में तैनात राज नगर निवासी हैड कांस्टेबल अमरजोत सिंह (30) निवासी मोहल्ला ऊची घाटी, फिल्लौर और थाना डिवीजन दो में तैनात रतन नगर निवासी होम गार्ड निर्मल सिंह (50) के रूप में हुई है। पूरा दिन टालमटोल के बाद देर शाम पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने हेड कांस्टेबल अमरजोत को नौकरी से डिसमिस कर दिया और होमगार्ड निर्मलजीत निम्मा के खिलाफ सख्त कार्रवाई की सिफारिश कर दी।

यह है वीडियो में
वायरल हुई वीडियो के मुताबिक थाना बस्ती बावा खेल का हेड कांस्टेबल अमरजोत और थाना डिवीजन दो का होमगार्ड निर्मलजीत निम्मा एक कमरे में बैठे हुए हैं। हेड कांस्टेबल अमरजोत ने पुलिस की वर्दी भी पहन रखी है, जबकि निर्मलजीत ने घरेलू कपड़े पहने हैं। दोनों बारी-बारी स्मैक का नशा करते हैं और उनके साथ बैठा इनका तीसरा साथी उन दोनों के नशा करने की वीडियो अपने मोबाइल कैमरे से शूट कर रहा है। वायरल हुई वीडियो देखने से पता चलता है कि दोनों पुलिस वालों के नशा करने की दो अलग-अलग वीडियो हैं, जिन्हें वीडियो बनाने वाले ने एक साथ मर्ज करने के बाद वायरल कर दिया।

दोस्त ने रंजिश के चलते वायरल की वीडियो
जानकारी के अनुसार उक्त दोनों आरोपित अपने तीसरे दोस्त के साथ मिलकर स्मैक का सेवन करते थे। रोजाना वह तीनों अमरजोत के राज नगर स्थित घर में मिलते थे और वहीं पर नशा करते थे। जानकारी मुताबिक पिछले कुछ समय से दोनों आरोपितों से उनका तीसरा दोस्त किसी बात को लेकर रंजिश रखने लगा था, जिसके बाद उसने योजनाबद्ध तरीके से आरोपितों की दो बार नशा करने की वीडियो बनाई और फिर उसे आला पुलिस अधिकारियों को भिजवा दिया।

अफसरों के आदेश पर केस, जेल भेजा : एसीपी
एसीपी वैस्ट बरजिंदर सिंह ने बताया कि उक्त वीडियो आला अधिकारियों के पास पहुंचने के बाद मामले में कार्रवाई करने के आदेश दिए गए थे। इसके बाद शुक्रवार शाम को हेड कांस्टेबल अमरजोत के राज नगर स्थित घर से उसको और होमगार्ड निर्मलजीत को गिरफ्तार किया गया। थाना बस्ती बावा खेल पुलिस ने दोनों पुलिस वालों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट की विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया था, जिस के बाद शनिवार को उन्हें कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया।

रंगे हाथ पकड़े, बाकी पर भी रखेंगे नजर : पुलिस कमिश्नर
पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने देर शाम प्रेस रिलीज जारी कर कहा कि गुप्त सूचना पर सब इंस्पेक्टर किशन चंद की अगुवाई में पुलिस टीम ने मिट्ठू बस्ती में छापमारी की। उस वक्त अमरजोत व निर्मल ¨सह नशा कर रहे थे। जहां से उन्हें हिरासत में लेकर केस दर्ज कर लिया गया। उन्होंने कहा कि अब पुलिस कर्मचारियों पर भी नजर रखी जाएगी ताकि नशे को जड़ से खत्म किया जा सके।

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!