जेएनएन, जालंधर। झारखंड से अफीम लाकर जालंधर में बेचने वाले दो आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उनसे एक किलो अफीम बरामद हुई है। पकड़ा गया मुख्य आरोपित कार मैकेनिक है, जबकि उसका दूसरा साथी कमीशन लेकर यह काम करता था। पुलिस लाइन में प्रेस कांफ्रेंस में डीसीपी इंवेस्टिगेशन गुरमीत सिंह ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर स्पेशल ऑपरेशन यूनिट ने गंदा नाला के नजदीक सब्जी मंडी से आरोपित शौकत अली उर्फ शैंकी निवासी 62, मोहल्ला नवाबां वाला मालेरकोटला और अशोक कुमार उर्फ सेक्रेटरी निवासी वार्ड नंबर 6, जुझार नगर मालेरकोटला जिला संगरूर को गिरफ्तार किया गया। उनसे पुलिस को एक किलो अफीम बरामद हुई है।

आरंभिक पूछताछ में मुख्य आरोपित शौकत अली ने बताया कि उसके पिता की मौत हो चुकी है तथा मां घर का काम करती है। वह आठवीं कक्षा तक पढ़ा हुआ है। वह मालेरकोटला में मैकेनिक का काम करता है। उसे नशा करने की लत है और नशे व पैसे के लालच में अफीम बेचने लगा। वहीं दूसरा आरेपित अशोक कुमार उर्फ सेक्रेटरी की उम्र 60 साल है। वह पहले सामान ढोने वाला छोटा हाथी चलाता था। वह गाड़ी रिपेयर कराने के लिए शौकत के पास जाता था। इस वक्त उसके पास कोई काम नहीं था। अशोक भी अफीम खाने का आदी था। यह देख शौकत ने उसे अपने साथ मिला लिया और फिर वो ग्राहक ढूंढकर शौकत को देता था, जिसके बदले उसे कमीशन मिलता था।

तरल अफीम लाकर यहां बनाते थे

पुलिस के मुताबिक शौकत अली के झारखंड के अफीम तस्करों के साथ संबंध हैं। वो उनसे तरल अफीम लाता था। जिसे बाद में यहां लाकर बॉर्नवीटा व केमिकल आदि मिलाकर बनाते थे। जिसके बाद अपनी जान-पहचान वाले ग्राहकों को ही इसे बेचते थे। इनको झारखंड से अफीम एक लाख रुपये किलो मिलती थी, जिसे बाद में वो लगभग ढाई लाख रुपये में बेचते थे। अफीम बिकने के बाद शौकत दूसरे आरोपित अशोक को उसका कमीशन दे देता था। पुलिस ने बताया कि आरोपितों के खिलाफ पहले कोई केस दर्ज नहीं है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Sat Paul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!