जालंधर, जेएनएन। आदमपुर के गांव कालरा स्थित यूको बैंक में 15 अक्टूबर को सिक्योरिटी गार्ड सुरिंदर सिंह की हत्या करके बैंक से छह लाख रुपये लूटने के मामले में पुलिस ने दो आरोपितों को होशियारपुर के हरियाना-भुंगा से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपितों से लूट की कुछ रकम भी बरामद कर ली है। हालांकि हत्याकांड और लूट का मुख्य आरोपित अभी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। प्रारंभिक पूछताछ में पता चला है कि बैंक लूटने के बाद चारों ने जालंधर से बाहर निकलकर लूटी हुई रकम के चार हिस्से किए थे। इसके बाद सभी होशियार की ओर फरार हो गए थे। पकड़े गए आरोपितों से पता चला है कि चारों आरोपित पेशेवर अपराधी हैं। गिरफ्तार आरोपितों से हरियाना की दर्जनों वारदातें ट्रेस हुई हैं। इनमें लूट, हत्या का प्रयास, सुपारी लेकर लोगों से मारपीट करना भी शामिल है। सोमवार को पुलिस गिरफ्तार आरोपितों की पत्रकार वार्ता करके गिरफ्तारी दिखा सकती है।

बताया जा रहा है कि पुलिस को जब इस लूट व हत्याकांड का कोई सुराग नहीं मिला तो उन्होंने जनवरी में लांच हुई एक्टिव एक्सेस 125 के संबंध में पड़ता शुरू की थी। लुटेरों ने वारदात में एक्टिवा व मोटरसाइकिल का इस्तेमाल किया था। पुलिस ने जनवरी में आसपास के शोरूमों से उक्त माडल की एक्टिवा किसने-किसने खरीदी थी, इसकी पड़ताल की और लुटेरों तक जा पहुंची। दूसरे राज्यों से लेकर आए थे हथियार आरोपितों से पता चला है कि लूट की वारदात को अंजाम देने के लिए आरोपित दूसरे राज्य से हथियार लेकर आए थे। इससे पहले उन्होंने कई और लूट की वारदातें भी की हैं। पहली बार बैंक लूटने की वारदात को अंजाम दिया।

इससे पहले वे छोटी-मोटी वारदातें करते रहे हैं। उन्होंने बताया कि उन्हें उम्मीद थी कि यूको बैंक में उन्हें बड़ी रकम मिलेगी। लूट से पहले उन्होंने बैंक में रेकी भी की थी। पूछताछ में यह भी सामने आया है कि वे गार्ड को जान से मारने की नीयत से नहीं आए थे। उनकी योजना गार्ड की दोनाली छीनकर उसे बंधक बनाने की थी। दोनाली छीनकर उन्होंने उसके कारतूस भी निकाल लिए थे लेकिन गार्ड सु¨रदर निहत्था ही उनसे भिड़ गया और भारी पड़ने लगा। उन्हें लगा था कि बैंक में मौजूद बाकी लोग भी कहीं सु¨रदर का साथ न देने लगें, इसलिए गार्ड को गोली मार दी थी। यह है मामला बीते वीरवार को आदमपुर के यूको बैंक में दिनदहाड़े चार पगड़ीधारी नकाबपोश लुटेरों ने सिक्योरिटी गार्ड की हत्या करके छह लाख रुपये से ज्यादा की नकदी लूट ली थी।

लुटेरे मोटरसाइकिल व स्कूटी पर बैठकर होशियारपुर की ओर फरार हो गए थे। बैंक में दाखिल होते ही लुटेरों ने पहले हाथों को सैनिटाइज किया था। उसके बाद बैंक मैं फैलकर सभी को काबू कर लिया था। सिक्योरिटी गार्ड सु¨रदर ¨सह से लुटेरों ने दोनाली भी छीन ली थी, लेकिन गार्ड निहत्थे ही लुटेरों से भिड़ गया था। इसी कारण उन्होंने गार्ड के सिर में गोली मारकर उसकी हत्या कर दी और बैंक का सारा कैश लेकर लुटेरे फरार हो गए थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!